चीनी उपक्रमों की परियोजना श्रीलंका का नया बिजनेस कार्ड बनेगी

2017-05-22 09:25:41

 

श्रीलंका हिंद महासागर में एक मोती माना जाता है। कई चीनी पर्यटक श्रीलंका की यात्रा करना चाहते हैं और उनसे भी ज्यादा चीनी उपक्रम भी इस देश को महत्व देते हैं। चीन द्वारा प्रस्तुत "एक पट्टी एक मार्ग" प्रस्ताव श्रीलंका समेत कुछ देशों को विकास का बड़ा मौका देता है। चीन की परिवहन निर्माण कंपनी ने कोलंबो बंदरगाह शहर परियोजना में जो पूंजी निवेश किया है ये उनमें से एक है।

   श्रीलंका हिंद महासागर में स्थित है, इसके पास एशिया-यूरोप नौवहन मार्ग है। श्रीलंका का भौगोलिक स्थान बहुत अच्छा है और पर्यटन संसाधन भी प्रचुर हैं। चीन द्वारा प्रस्तुत "एक पट्टी एक मार्ग" प्रस्ताव से राजधानी कोलंबो को विकास का नया मौका मिला है, जहां पर एक नए समुद्री वाणिज्यिक बंदरगाह शहर का बड़ा विकास होगा। चीन स्थित श्रीलंका के पूर्व राजदूत बर्नार्ड गूनेटिल्लेके ने कहा कि कोलंबो बंदरगाह परियोजना चीन द्वारा प्रस्तुत "एक पट्टी एक मार्ग" प्रस्ताव में एक महत्वपूर्ण परियोजना है। यह परियोजना श्रीलंका के महान पश्चिमी प्रांत परियोजना से जुड़ती है और श्रीलंका को इस परियोजना से विकास का नया मौका मिलेगा।

   उन्होंने कहा कि कोलंबो बंदरगाह परियोजना से कोलंबो के वित्तीय केंद्र के विकास को आगे बढ़ाया जाएगा। यह श्रीलंका में चीन की सबसे बड़ी निवेश परियोजनाओं में से एक है। यह परियोजना पूरी होने के बाद कोलंबो शहर में नया बदलाव आएगा।

कैलेंडर

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी