चीन और यूरोप के बीच आर्थिक और व्यापारिक संबंधों के विकास पर चीन और फ्रांस के थिंकटैंक की चर्चा

2019-05-06 17:43:00

स्थानीय समय के अनुसार 4 अप्रैल को दोपहर बाद चीन और यूरोप के बीच आर्थिक और व्यापारिक संबंधों की संगोष्ठी फ्रांस के अंतर्राष्ट्रीय संबंध और रणनीति के अनुसंधान संस्थान में आयोजित हुई। चीनी अंतर्राष्ट्रीय आर्थिक आदान-प्रदान केंद्र, फ्रांस के अंतर्राष्ट्रीय संबंध और रणनीति के अनुसंधान संस्थान से आए विशेषज्ञों और विद्वानों ने चीन और यरोप के बीच आर्थिक और व्यापारिक संबंधों के विकास पर विचार विमर्श कर आपसी समझ को गहराया।

चीन और यूरोप के बीच संबंधों में आर्थिक और व्यापारिक संबंध का महत्वपूर्ण स्थान रहा है। वर्ष 2018 तक यूरोपीय संघ लगातार 15 वर्षों तक चीन का सबसे बड़ा व्यापारिक साझेदार बना रहा है। उधर चीन यूरोपीय संध का दूसरा बड़ा व्यापारिक साझेदार भी है। आर्थिक विशेषज्ञ, फ्रांस के अंतर्राष्ट्रीय संबंध और रणनीति के अनुसंधान संस्थान की महिला उपाध्यक्ष सिल्वी मैटेली ने ज़ोर देते हुए कहा कि यूरोप और चीन के बीच आर्थिक और व्यापारिक सहयोग का आशाजनक विकास होगा।

उन्होंने कहा कि विश्व के दो बड़े आर्थिक समुदाय के रूप में यूरोप और चीन आर्थिक और व्यापारिक क्षेत्र में समान रूप से बहुपक्षवाद की रक्षा करने में जुटे रहेंगे। दोनों पक्षों के सामने समान चुनौतियां मौजूद हैं। चीन और यूरोप के बीच सहयोग अत्यन्त महत्वपूर्ण है। दोनों पक्ष एक महाद्वीप के हैं। अब विश्व की अर्थव्यवस्था गुरुत्वाकर्षण का फोकस धीरे धीरे यूरेशिया में बदल रहा है। यूरेशिया एक तरफ यूरोप और दूसरी तरफ चीन है। इसलिए वास्तव में इस बदलाव के नेता केवल यूरोप और चीन हैं।

चीनी वाणिज्य मंत्रालय से मिले आंकड़ों के अनुसार 2018 चीन और यूरोप के बीच व्यापार की राशि एक नए उच्च स्तर पर पहुंच गई, जो 6 खरब 82 अरब 20 करोड़ अमेरिकी डॉलर तक पहुंची है और वर्ष 2017 से 10.6 प्रतिशत अधिक रही। चीनी अंतर्राष्ट्रीय आर्थिक आदान-प्रदान केंद्र के उपाध्यक्ष, चीनी पूर्व वाणिज्य मंत्री वेई चिए क्वो ने कहा कि भविष्य में चीन और यूरोप के बीच आर्थिक और व्यापारिक सहयोग की गति तेज़ होगी और सहयोग के क्षेत्रों का विस्तार भी किया जाएगा।

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी