ब्रिक्स में शी चिनफिंग के पदचिन्ह

2017-09-15 18:47:00

शी चिनफिंग और ब्रिक्स

3 से 5 सितंबर को ब्रिक्स देशों की नौवीं शिखर भेंटवार्ता चीन के श्यामन शहर में आयोजित होने वाली है। दक्षिण अफ्रीका के डरबन, ब्राजिल के फ़ोर्टालीज़ा, रूस के ऊफा और भारत के गोवा के बाद चीन के श्यामन में यह शिखर सम्मेलन आयोजित होगा। चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग की ब्रिक्स यात्रा मज़बूत व शक्तिशाली रही है।

2013 के मार्च माह में चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने पहली बार दक्षिण अफ्रीका के डरबन जाकर ब्रिक्स शिखर भेंटवार्ता में भाग लिया। यह चीनी राष्ट्रपति के रूप में अंतर्राष्ट्रीय बहुपक्षीय मंच में उनकी पहली भागीदारी थी।

2013 के मार्च से चीनी राष्ट्रपति का पद संभालने के बाद शी चिनफिंग हरेक ब्रिक्स देशों की यात्रा कर चुके हैं। हिन्द महासागर के पास दक्षिण अफ्रीका के मशहूर पर्यटन स्थल डरबन, अटलांटिक महासागर के पास ब्राजिल का “स्टोव”----ऊफ़ा, अरब सागर स्थित “छोटा यूरोप”---भारत का गोवा आदि स्थलों में शी चिनफिंग के पदचिन्ह छोड़े गये हैं।

डरबन से गोवा तक चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने ब्रिक्स के अन्य देशों के नेताओं के साथ ब्रिक्स प्रणाली के विकास को अपनी आंखों से देखा है। ब्रिक्स देशों के विकास बैंक को भी खुलते हुए देखा है, जिससे ब्रिक्स देशों द्वारा वैश्विक प्रशासन प्रणाली में सुधार करने का प्रयास प्रतिबिंबित है।

 ब्राजिल सेआरा इवेंट सेंटर के जनरल मैनेजर लिविया होलेंता ने कहा,“भेंटवार्ता में भाग लेने वाले पाँच देश फ़ोर्टालीज़ा ब्रिक्स देशों की शिखर भेंटवार्ता में प्राप्त उपलब्धियों के प्रति बहुत संतुष्ट हैं। भेंटवार्ता में ब्रिक्स देशों के विकास बैंक की स्थापना करने के फ़ोर्टालीज़ा घोषणा पत्र पर हस्ताक्षर किया, जिसका अहम अर्थ है।”

कैलेंडर

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी