चीनः गरीब छात्रों को विश्वविद्यालय में पढ़ने में मदद

2017-09-20 08:18:02

चीनः गरीब छात्रों को विश्वविद्यालय में पढ़ने में मदद

पहली सितम्बर को चीन में अधिकांश विश्वविद्यालयों के नये सत्र की शुरूआत का पहला दिन था। हाल में चीनी शिक्षा मंत्रालय से मिली खबर के अनुसार पिछले पांच साल में चीनी छात्रों को मदद देने की नीति में सुधार किया गया। चीन सरकार ने करीब 40 करोड़ छात्रों को कुल 7 खरब युआन की सहायता दी। इसके अलावा गरीब छात्रों को सही ढंग से विश्वविद्यालय में भर्ती करने को सुनिश्चित देने के लिए चीनी शिक्षा मंत्रालय ने चार गिफ्ट पैकेज दिए। चीनी राष्ट्रीय छात्र सहायता प्रबंध केंद्र की प्रधान थ्येन जूमंग के मुताबिक पहला गिफ्ट पैकेज है कि गर्मियों की छुट्टी से पहले विश्विद्यालय को छात्रों को दो पत्र भेजे गए। पत्र में देश की सहायता नीति और मदद मांगने के तरीके की जानकारी दी गयी। दूसरा गिफ्ट पैकेज है कि नये सत्र की शुरुआत से होने से पहले सहायता देने की प्रक्रिया का सरल परिचय किया गया। तीसरा गिफ्ट पैकेज है हॉट लाइन फोन सेवा की अवधि को बढ़ाया गया। चौथा गिफ्ट पैकेज है पढ़ाई के ऋण लेने के दौरान छात्रों को सुविधा देने के सिलसिलेवार कदम उठाए गए।“मुख्यतः तीन कदम हैं। पहला, छात्र परिवार की गरीब स्थिति का सबूत देने पर ऋण ले सकते हैं। दूसरा, छात्रों को सुविधा देने के लिए चीन के विभिन्न स्थलों में ऑफिस खुले हैं। तीसरा, छात्र अपने हाई स्कूल द्वारा प्रस्तुत प्रमाण पत्र के जरिए विश्वविद्यालय में भर्ती के ग्रीन रास्ते का आवेदन कर सकते हैं।“

चीनः गरीब छात्रों को विश्वविद्यालय में पढ़ने में मदद

चीनी शिक्षा मंत्रालय की वित्तीय ब्यूरो के उप प्रधान चाओ च्येनच्वन ने कहा कि पिछले पाँच सालों में चीन ने अपेक्षाकृत परिपक्व सहायता सिस्टम चालू किया है और कुल 40 करोड़ छात्रों को मदद दी। चीन सरकार का मकसद है कोई भी छात्र पारिवारिक गरीबी के कारण स्कूल न छोड़ पाए। चाओ के मुताबिक,”यदि छात्र की पारिवारिक स्थिति अच्छी नहीं है, तो चाहे वह किसी क्षेत्र या किसी स्कूल में पढ़ता हो, उसे अवश्य ही मदद दी जाएगी। यदि छात्र मेहनत से पढ़ता हो, तो किंडरगार्डन से विश्वविद्यालय तक उसे सरकारी सहायता मिलेगी।“

चाओ ने कहा,”छात्रों के वित्तीय उपभोग की मांग को पूरा करने के लिए हम वाणिज्य बैंकों को विश्वविद्यालयों के विद्यार्थियों को छोटे क्रेडिट कर्ज देने के लिए प्रोत्साहित करते हैं। साथ ही हमने विश्वविद्यालयों से छात्रों की अच्छी तरह शिक्षा देने की मांग भी की, ताकि छात्र बुरे कर्ज न लें और धोखे में न आएं।“

कैलेंडर

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी