विश्व का सबसे बड़ा विज्ञान व तकनीक केंद्र बना चीन का चोंगक्वानछ्वन

2017-11-17 11:40:01

विश्व का सबसे बड़ा विज्ञान व तकनीक केंद्र बना चीन का चोंगक्वानछ्वन

अमेरिकी मीडिया की हालिया रिपोर्ट के मुताबिक एक नवीन रिपोर्ट से जाहिर है कि चीन की राजधानी पेइचिंग अमेरिका के सिलिकॉन वैली की जगह लेकर विश्व का सबसे बड़ा विज्ञान व तकनीक केंद्र बन चुका है।

अमेरिकी फोर्ब्स पत्रिका की वेबसाइट की 2 नवम्बर की रिपोर्ट के मुताबिक अमेरिकी व्यापार संसाधन कंपनी "विशेषज्ञ बाजार" कंपनी ने 2017 विश्व के सब से बड़े विज्ञान व तकनीक शहरों की रेनकिंग जारी की, जिस में पेइचिंग पहले स्थान पर रहा। पिछले साल पहले स्थान पर रहा बर्लिन दूसरे स्थान पर आ चुका है। अमेरिका का सैन फ्रांसिस्को तीसरे स्थान पर है। चीन का शांगहाई, भारत का बैंगलोर, सिंगापुर और सिडनी  पहले 20 स्थानों पर रहे हैं।

 रिपोर्ट के अनुसार इस कंपनी ने पेइचिंग का चोंगक्वानछ्वन विज्ञान व तकनीक उद्यान प्रथम श्रेणी में रखा। अनुसंधानकर्ताओं ने सॉफ्ट वेयर इंजीनियरों के वेतन, एक कारोबार की स्थापना के लिए समय, जीवन खर्चा, मानसिक किराये, विकास सूचकांक, कारोबारों के उत्पादन आदि अनेक तत्वों पर अध्ययन करने के बाद यह रैंकिग तय की है।

कंपनी के जिम्मेदार प्रतिनिधि ने न्यूज़ ब्रीफिंग में कहा कि उनकी रिपोर्ट से यह जाहिर हुआ है कि विज्ञान व तकनीक उद्योग का तेज़ विकास होता है और तीव्र अंतर्राष्ट्रीय प्रतिस्पर्द्धा है। हालांकि कुछ अहम क्षेत्रों में सिलिकॉन वैली की अभी भी श्रेष्ठता है, फिर भी अंतर्राष्ट्रीय समुदाय के कई शहर इस प्रारंभिक तकनीक केंद्र शहर को पारा है। ये शहर और कम जीवन खर्चा और तीव्र बढ़ने वाली पूंजी प्रदान कर सकते हैं।

रिपोर्ट में कहा गया कि इधर के सालों में ज्यादा से ज्यादा लोग पेइचिंग की सिलिकॉन वैली की तुलना करने लगे हैं। एक व्यवसाही ने "फिर से कोडिंग" न्यूज़ वेबसाइट पर लेख जारी कर कहा कि चीन की राजधानी पेइचिंग सिलिकॉन वैली का एकमात्र सच्चा प्रतिद्विंद्वी है। कारण है कि इस का विशाल बाजार, तेज़ विकास और नवाचार के प्रति तीव्र इच्छा है। 2016 में चीन ने 1.5 अरब अमेरिकी डॉलर की पूंजी देकर चोंगक्वानछ्वन का विकास करने की घोषणा की। यहां कुछ बड़े चीनी कारोबारों और गूगल व इंटेल आदि अमेरिकी उद्यमियों के चीनी मुख्यालयों के स्थल भी है।

रिपोर्ट के मुताबिक चीन को कुछ विज्ञान व तकनीक कंपनी की सफल केस पर गर्व है। सब से ध्यानाजनक कंपनी अलीबाबा और टेनसेंट है।

गौरतलब है कि आजकल चीन के कई व्यवसायों के विज्ञान व तकनीक कारोबार विश्वविख्यात हैं। सुपर कंप्यूटर के क्षेत्र में चीन विश्व का नेतृत्व करता है। सुरक्षा उत्पादों, चैट एप्लिकेशन, ऑनलाइन कार बुकिंग की सेवा और बिजली गाड़ी व ई-कॉर्मस में चीन की बड़ी भूमिका है।

कैलेंडर

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी