पाईल्यांगची एवं श्युस्यान

2018-04-04 17:35:01

पाईल्यांगची एवं श्युस्यान

चीन के परम्परागत त्यौहार छिंगमिंग उत्सव के मौके पर, हांगचो की पश्चिमी झील में जगह जगह लाल लाल फूल एवं हरे हरे पेड़ खिले दिखाये देते थे। यह पश्चिमी झील पर्वतों से घिरी हुई थी, उस का कुदरती दृश्य अत्यन्त सुन्दर और मनमोहक था। हजार साल तक कड़ी तपस्या करके अंत में मानव का रूप धारण की गयी नागिन पाई सूजचन (पाईल्यांगची) एवं श्याओछिंग पश्चिमी झील की सैर पर निकलीं। वसंतकालीन वर्षा रिमझिम हो रही थी, उन के पास छाता नहीं थी। छाता उधार लेने के कारण उन की युवा श्युस्यान से मुलाकात हुई। पाई सूचन एवं श्युस्यान के बीच मुहब्बत पनपी। कुछ समय के बाद उन का विवाह भी हुआ। दंपति ने एक दवा दुकान खोलकर रोगियों का इलाज करना शुरू किया। वे सुखचैन की बंसी बजाने लगे।

पाईल्यांगची एवं श्युस्यान

लेकिन, एक चिनशान मठ का धर्माचार्य फ़ाहाई था, जो पाईल्यांगची को अनिष्ट समझता था और दोनों को अलग करने की कुचेष्टा की। उस ने गुप्त रूप से श्युस्यान को उस की पत्नी का असली रूप बताया कि वह एक सफेद नागिन है। उस ने श्युस्यान को पाईल्यांगची की कलई खोलने का एक तरकीब भी बताया। फिर उस ने श्युस्यान को चिनशान मठ में जबरन ले कर नज़रबंद भी किया। पाईल्यांगची एवं श्याओछिंग ने चिनशान मठ आकर फ़ाहाई से अपना पति छोड़ने की बार बार मिन्नत की, लेकिन, फ़ाहाई ने श्यूस्यान को रिहा करने से इंकार कर दिया। विवश होकर पाईल्यांगची ने अपनी दिव्य शक्ति से ऊंची ऊंची लहरें उत्पन्न कर चिनशा मठ को जलमग्न कर दिया। पाईल्यांगची और फ़ाहाई के बीच घमासान लड़ाई हुई। चूंकि अब पाईल्यांगची गर्भवती हो गयी थी, इसलिए, अंत में उसे फ़ाहाई से हार खानी पड़ी और पश्चिमी झील के किनारे स्थित लेईफ़ङ पगोडे के नीचे दबाया गया। प्रेमासक्त पति पत्नी इसी तरह अलग थलग कर दिया गया था।

इस के उपरांत, श्याओछिंग चिनशान मठ से भाग निकली और कड़ी मेहनत से तपस्या किया। अंत में उसने फ़ाहाई को हराकर उसे केकड़े के उदर में कैद करवाया। श्याओछिंग ने पगोडे के तले दबी पाईल्यांगची को बाहर निकाल कर उबारा। इस प्रकार पाईल्यांगची एवं श्यूस्यान का पुनः मिलन हुआ।

सफ़ेद नागिन की कहानी ने एक सुन्दर, सहृदय एवं दृढ़संकल्प लड़की की छवि का निर्माण किया है और सच्चे और अटूट प्रेम का गुणगान किया है।

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी