लम्बी दीवार का दौरा

2019-06-05 06:07:00

चीन की लम्बी दीवार का नाम आप ने कभी सुना होगा। पिछले इजार वर्षों से चीनी जनता इस विश्वविख्यात लम्बी दीवार को गर्व महसूस करती आयी है। यह लम्बी दीवार मानव जाति के इतिहास की सब से बड़ी परियोजनाओं में से एक होने के नाते आज तक भी ज्यों का त्यों उत्तर चीन की भूमि पर खड़ी हुई नज़र आती है। यह लम्बी दीवार समृद्ध सांस्कृतिक गर्भिता वाला विश्व सांस्कृतिक अवशेष ही नहीं, अपनी विशेष प्राकृतिक दृश्य का परिचायक भी है। आज के इस प्रोग्राम में हम आप के साथ इस महान लम्बी दीवार का दौरा करने जा रहे हैं।

आज से कोई दो हजार वर्ष से पहले के चीनी वसंत शरद युद्धरत काल में लम्बी दीवार का निर्माण शुरू हुआ। तत्काल में इस लम्बी दीवार के निर्माण में जितना ज्यादा समय लगने और परियोजना की कठिनता की दृष्टि से देखा जाये, वह बैमिसाल मानी जाती थी। ईसा पूर्व 221 वर्ष में चीन के प्रथम सामंती राजा छिन श ह्वांग ने चीन को एकीकृत करने के बाद विभिन्न छोटे छोटे राज्यों में निर्मित लम्बी दीवारों को जोड़ दिया है। फिर ईस्वी के आगे पीछे के हान राजवंश काल तक लम्बी दीवार की लम्बाई बढ़कर दस हजार किलोमीटर से अधिक हो गयी। पर लम्बे वर्षों की वर्षाओं और हवाओं की थपेट से प्राचीन काल के विभिन्न राज्यों में निर्मित अधिकतर लम्बी दीवारें छिन्न भिन्न होकर खंडहर रह गयीं। आज जो सुरक्षित लम्बी दीवार देखने को मिलती है, वह सात सौ वर्षों से पहले के मिंग राजवंश काल में निर्मित हो गयी है।

लम्बी दीवार के निर्माताओं में मुख्यतः सैनिक, आम नागरिक और सज़ा भूगतने वाले अपराधी शामिल थे। क्योंकि लम्बी दीवार का निर्माण एक राष्ट्रीय परियोजना था, इसलिए तत्कालीन सेना में कार्यरत सैनिक निर्माताओं की मुख्य शक्ति की हैसियत से निर्माण में जुटे हुए थे। फिर हाथ बटाने के लिए देश के विभिन्न क्षेत्रों से तंदुरूस्त जवान व वयस्क नागरिकों को भी बुला लिया गया। जहां तक कि अपराधियों का ताल्लुक है कि तत्काल में अपराधियों को सुधारने के लिए आम तौर पर दूर दराज क्षेत्रों में भेजा जाता था, लम्बी दीवार का निर्माण सीमाओं पर था। अतः सज़ा भूगतने वाले सभी अपराधियों को लम्बी दीवार के निर्माण में लगवाया गया था।

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी