लहलहाता हुआ बोआओ

2018-04-08 17:51:21

वर्ष 2018 की वसंत में बोआओ समय फिर शुरू हुआ है ।चीन का सब से बड़ा विशेष आर्थिक क्षेत्र हाईनान प्रांत फिर विश्व के आकर्षण का केंद्र बन गया है ।पाँच साल पहले चीनी राष्ट्रपति ने विश्व को वादा दिया कि चीन सुधार और खुलेपन पर अडिग रहेगा ।10 अप्रैल को वे यहां चीन के नये दौर के सुधार और खुलेपन के आधार और सोच पर प्रकाश डालेंगे।

बोआओ में सवाल जवाबः चीन के खुलेपन का द्वार बंद नहीं होगा।

2013 में बोआओ एशिया मंच के वार्षिक सम्मेलन में उपस्थित 32 देसी विदेशी उद्यमों के प्रमुखों ने शी चिनफिंग के रूबरू वार्तालाप किया।

अमेरिकी पेप्सी कॉर्पोरेशन के महानिदेशक अब्दुलाह ने आशा व्यक्त की कि चीन खुलेपन का विस्तार जारी रखेगा, प्रशासनिक मंजूरी व्यवस्था में सुधार करेगा और कृषि व हरित अर्थव्यवस्था में विदेशी पूंजी निवेश को प्रेरणा देगा ।

ऑस्ट्रेलिया के फोर्टेस्क्यू मेटल्स ग्रुप के बोर्ड अध्यक्ष ने बताया कि चीन के लौह अयस्क के आयात से उस की कंपनी विश्व में सब से सफल संसाधन कंपनियों में से एक बन गई है। उसकी कंपनी चीन में पूंजी निवेश बढ़ाएगी।

थाईलैंड के सीपी ग्रुप के बोर्ड अध्यक्ष श्ये क्वोमिंग ने सुझाव दिया कि चीन घरेलू मांग का विस्तार करे ताकि कृषि और सेवा उद्योग समृद्ध हो।

शी चिनफिंग ने विश्वास दिलाया कि चीन के खुलेपन का द्वार बंद नहीं होगा।

----हमने दो शताब्दी के संघर्ष के लक्ष्य निर्धारित किये हैं और चीनी राष्ट्र का महान पुनरूत्थान पूरा करने वाला चीनी सपना पेश किया। ये लक्ष्य पूरा करने से चीनी अर्थव्यवस्था में निरंतर जीवंत शक्ति और प्रेरणा डाली जाएगी ।हमारी कोशिशों से चीन की आर्थिक वृद्धि अपेक्षात्मक ऊंचे स्तर पर बनी रहेगी।

--चीन की मुख्य भूमि में दर्ज सभी उद्यम चीनी अर्थव्यवस्था का महत्वपूर्ण भाग है। विदेशी पूंजी के प्रयोग की हमारी नीति में बदलाव नहीं आएगा। हम कानून के अनुसार विदेशी पूंजी से संचालित उद्यमों के वैध हितों की सुरक्षा करेंगे।

कैलेंडर

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी