शांगहाई में मनाई गई कविवर रविन्द्र नाथ टैगोर की जयंती

2018-05-10 12:04:03

शांगहाई में मनाई गई कविवर रविन्द्र नाथ टैगोर की जयंती

शांगहाई में 7 मई के दिन कविवर रविन्द्र नाथ टैगोर की जयंति हर्षोल्लास के साथ मनाई गई।

भारतीय मेधा, कला और विश्वप्रेम की समवेत ईकाई हैं कविकुलगुरु रविन्द्र नाथ टैगोर। भारत और भारत के बाहर उनके साहित्य, संगीत, नाट्य, चित्रकला, शिक्षा क्षेत्र में उनके द्वारा किये गए कार्यों की सराहना करने वाले अनेक लोग हैं। स्वतंत्रता आंदोलन में उनकी सहभागिता को आज भी सम्मान देने वाले अनेक लोग हैं। विश्वभारती, शांतिनिकेतन में चीनी भाषा और साहित्य अध्ययन की परंपरा की शुरुआत कर उन्होंने भारत-चीन मित्रता का सशक्त द्वार खोला। शांगहाई के लुसून पार्क में उनकी आदमकद प्रतिमा के सामने उनके जन्मदिवस 7 मई के दिन भारत के रविन्द्र संगीत प्रेमियों ने उनको संगीत के साथ याद किया। इस अवसर पर उनकी संगीतमय सुरलहरियों को संजोने वाले कलाकारों ने उत्साह के साथ इस कार्यक्रम में हिस्सा लिया। भारतीय कौंसुलेट के सांस्कृतिक कौंसल प्रशांत त्रिपाठी, चैती संस्था के सिद्धार्थ सिन्हा और मधुमिता भूयान के साथ शांगहाई केन्द्र के कलाकार मनीषा श्रीराम, पारोमिता दत्ता, देबारती कोमेर, अनिंदिता कोमोनूरी, अचेता लाहा, तबला वादक वांग ली, कहानी पाठ-सुभाष पोद्दार। भारतीय कौंसुलेट के नवीन राणा और जौचुन ली और सिसु के सेन्नी क्लाउडियो, नवीन चंद्र लोहनी और जयश्री बोरा के साथ दर्जनों चीनी लोग भी इस कार्यक्रम में शामिल रहे।

कैलेंडर

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी