एशिया की शांति, स्थिरता और समृद्धि के लिये नया योगदान दें : ली खछ्यांग

2018-05-10 16:04:04

स्थानीय समयानुसार 9 मई की सुबह चीनी प्रधानमंत्री ली खछ्यांग ने टोक्यो में जापानी प्रधानमंत्री शिंजो आबे और दक्षिण कोरियाई राष्ट्रपति मून जाए इन के साथ सातवें चीन-जापान-दक्षिण कोरिया के नेता सम्मेलन में भाग लिया, और एक साथ संवाददाताओं से मुलाकात की। ली खछ्यांग ने बल देकर कहा कि चीन, जापान और दक्षिण कोरिया के बीच सहयोग को मजबूत करना न सिर्फ़ तीनों देशों के अपने विकास की मांग है, बल्कि अन्य देशों और अंतर्राष्ट्रीय समुदाय की समान प्रतीक्षा भी है। तीनों पक्षों को मौका पकड़कर हितों का विस्तार करके अपने क्षेत्र की चिरस्थाई शांति और समान समृद्धि को मजबूत करने की कोशिश करनी चाहिये।

ली खछ्यांग ने कहा कि चीन-जापान-दक्षिण कोरिया का नेता सम्मेलन नियमित रूप से आयोजित किया जाता है, जो नेतृत्व की भूमिका अदा कर सकता है। क्योंकि चीन, जापान और दक्षिण कोरिया के बीच समान हित मतभेदों से कहीं अधिक हैं। नेता सम्मेलन के आयोजन से तीनों के समान हितों का विस्तार किया जा सकेगा, और मतभेदों की रोकथाम और समाधान भी किया जा सकेगा।

ली खछ्यांग ने कहा कि हमें इतिहास से सबक सीखकर भविष्य के सामने और उच्च स्तरीय सहयोगों का विकास करना चाहिये। तीनों देशों को एक साथ मुक्त व्यापार की रक्षा करनी और क्षेत्रीय आर्थिक एकीकरण को मजबूत करना चाहिये, और दृढ़ता से नीति-नियम के आधार पर स्थापित बहुपक्षीय व्यापारिक व्यवस्था की रक्षा करनी चाहिये।

चंद्रिमा

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी