ल्यांगच्याहो (भाग 1)

2018-07-01 01:20:01

किसानों ने शी चिनफिंग को बताया,“अब जीवन बेहतर हो गया है। हम रोज़ सफ़ेद मोमो, सफ़ेद आटा, चावल और मांस खा सकते हैं।”

यह सुनकर शी चिनफिंग के चेहरे पर मुस्कुराहट आ गयी। उन्होंने संतुष्टि से कहा,“यह तो अच्छा है। आप लोग अच्छा जीवन बिता रहे, तो मुझे बड़ी खुशी हो रही है।”

वर्ष 1975 में शी चिनफिंग ल्यांगचाहो से रवाना हुए। अब यह दूसरी बार है कि वे फिर एक बार वापस लौटे हैं।

किसानों को साफ़ साफ़ याद है कि शी चिनफिंग 1993 में पहली बार वापस आए थे।

1993 के 27 सितंबर को फूच्येन प्रांत की स्थायी कमेटी के सदस्य, फूचो शहर की सीपीसी कमेटी के महासचिव शी चिनफिंग पहली बार ल्यांगचाहो वापस लौटे थे। उस समय उन्होंने हरेक परिवार जाकर किसानों को देखा। उन्होंने लोगों से कहा,“भरपेट खाने की समस्या का हल करने के साथ साथ सांस्कृतिक समस्या का समाधान भी किया जाना चाहिए।”उन्होंने हरेक परिवार को एक इलेक्ट्रॉनिक घंटी दी, ताकि बच्चे समय पर स्कूल जा पाते।

इस बार शी चिनफिंग ने अपने पैसे निकालकर किसानों के लिए चावल, आटा, तेल, मांस और वसंत त्योहार की वस्तुएं खरीदी।

शी चिनफिंग शिक्षित युवा आँगन पहुंचे, जहां पाँच सालों के लिए वे ठहरे थे। इस आँगन में शी चिनफिंग 1975 तक रहे थे। शिक्षित युवा आँगन के बाहर बायोगैस पूल शी चिनफिंग द्वारा ल्यांगचाहो के किसानों का नेतृत्व कर निर्मित पहला बायोगैस पूल है। बाहर की दीवारों पर आत्मनिर्भरता और कड़ी मेहनत करें आठ लाल शब्द लिखे गये हैं। यह देखकर शी चिनफिंग बहुत भावुकता से कहा,“इन शब्दों को 40 साल हो चुके हैं।”

1969 में ल्यांगचाहो में कई महीनों के लिए काम करने के बाद शी चिफिंग के पड़ोसी चांग वेईफांग ने चांग क्वेईलिन की बेटी से शादी की। उस समय चांग वेईफांग का घर बहुत गरीब था। गांव की सीपीसी कमेटी के महासचिव होने के नाते शी चिनफिंग अकसर उन्हें मदद दी और अपने खाने की चीज़ों को उनके परिवार के लोगों के साथ शेयर करते थे। विश्वविद्यालय में पढ़ने के लिए ल्यांगचाहो से रवाना होने से पहले शी चिनफिंग ने अपनी दो रज़ाइयां, दो कोट और एक सिलाई किट को चांग वेईफांग को दिया।

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी