ल्यांगच्याहो (भाग 1)

2018-07-01 01:20:01

वर्ष 1993 में शी चिनफिंग ल्यांगच्याहो में वापस लौटे। उसी समय च्यांग वेईफांग पहाड़ पर गेहूं की बुवाई कर रहे थे। जब उन्होंने शी चिनफिंग के वापस लौटने की खबर सुनी, तो वे फ़ौरन पहाड़ से नीचे दौड़ने लगे। आधे रास्ते पर उन्हें शी चिनफिंग से मिले। च्यांग वेईफांग ने कहा कि शी चिनफिंग ने उन्हें देखा, और स्नेह के साथ उन से हालचाल पूछा। उसी समय वे बहुत उत्साहपूर्ण थे, जो कुछ भी नहीं कह सकते थे।

शी चिनफिंग ने कहा था कि उसी समय ग्रामीण लोगों ने मुझे जीवन बिताने व काम करना सिखाया। जिससे मुझे बहुत लाभ मिले हैं। उसी समय मैं केवल 15 या 16 वर्षीय एक लड़का था। कुछ भी नहीं जानता था। बाद में मैं सभी काम कर सकता हूं, यहां तक कि ग्रामीण भोजन भी बना सकता हूं। लंबे समय में ग्रामीण भोजन न करने से मुझे इसकी खूब याद आती है।

ल्यांगच्याहो का ग्रामीण बर्तन खट्टी गोभी शी चिनफिंग कभी नहीं भूल सकते। वर्ष 2014 की 7 मार्च को चीन के एनपीसी व सीपीपीसीसी के आयोजन के दौरान शी चिनफिंग ने क्वेईचो प्रतिनिधिमंडल की बैठक में भाग लेते समय कहा कि वर्ष 1969 के जनवरी में जब मैं ग्रामीण क्षेत्रों में काम करता था, तो जनता ने मेरी खूब मदद दी। अगर उनके पास कोई स्वादिष्ट भोजन था, तो उन्होंने ज़रूर मुझे कुछ दिया। उसी समय एक कटोरे वाला खट्टी गोभी तो मेरे लिये बहुत स्वादिष्ठ भोजन था। अब जब मैंने गरीबी क्षेत्रों में रहने वाले जनता को देखा, तो मैं दिल से उन्हें सहानुभूति देना चाहता हूं। हमें चीनी कम्युनिस्ट पार्टी के सदस्य के रूप में अवश्य ही जनता को अपने दिल में रखना पड़ेगा। हमें जनता के लिये वास्तविक काम करना चाहिये। नहीं तो हमारे विवेक खो जाएंगे।

ल्यांगच्याहो से रवाना होकर 40 से अधिक वर्ष बीत चुके हैं। शी चिनफिंग अकसर ल्यांगच्याहो की जनता पर ख्याल रखते हैं।

वर्ष 1994 में ल्यू होशन के दायें पैर में बीमार हो गया। अस्पताल में दो महीने तक इलाज किया गया। छह हजार से अधिक युआन खर्च करके वे बेहतर नहीं हो सके। मुसीबत में फंसे ल्यू के पास कोई उपाय नहीं है, विवश होकर उन्होंने शी चिनफिंग को पत्र भेजकर अपनी स्थिति बतायी। फिर आधे महीने में शी चिनफिंग ने उन्हें पाँच सौ युआन का यात्रा खर्च भेजकर उन्हें फ़ूचो में इलाज करने का आमंत्रण किया। फूचो में इलाज के दौरान अगर शी चिनफिंग शहर में हो, तो वे लगभग हर रात को अस्पताल में ल्यू होशन को देखते थे।

इलाज के बाद ल्यू होशन की हालात बेहतर हो गयी। वे शैनपेई वापस लौटेंगे। शी चिनफिंग ने उन के लिये विमान टिकट खरीद लिये, और दो हजार य्वान उन्हें दिये। ल्यू होशन ने उत्साह के साथ कहा कि चिनफिंग, इस बार मैंने आप के दस हजारों से अधिक पैसे खर्च किए। शी चिनफिंग ने कहा कि कोई बात नहीं है, क्योंकि हम सच्चे दोस्त हैं।

उनके अलावा शी चिनफिंग ने ल्यांगच्याहो गांव में बिजली की सुविधा दी, स्कूल की स्थापना की, पुल का निर्माण किया। शी चिनफिंग की भावना व मित्रता को ग्रामीण लोग कभी नहीं भूलेंगे। उन्होंने भावनात्मक रूप से कहा कि चिनफिंग का दिल हमेशा ल्यांगच्याहो में है।

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी