सभी देशों को हाथ मिलाकर बहुपक्षवाद की रक्षा करनी चाहिए : फ्रांसीसी विद्वान

2018-07-13 17:48:11

पेरिस राजनीति कॉलेज के अर्थशास्त्र प्रोफेसर पैट्रिक मेस्सरलिन

इस वर्ष अमेरिका की ट्रम्प सरकार ने सिलसिलेवार व्यापार संरक्षणवादी कदम उठाए हैं। उसके एकतरफ़वाद से खुद को ही नहीं, संबंधित देशों के अर्थतंत्र को भी नुकसान पहुंचा है, इसके साथ ही विश्व बहुपक्षीय व्यापारिक व्यवस्था को भी क्षति पहुंची है। फ्रांसीसी विद्वानों के विचार में सभी देशों को हाथ मिलाकर बहुपक्षवाद की रक्षा करनी चाहिए।

पेरिस राजनीति कॉलेज के अर्थशास्त्र प्रोफेसर पैट्रिक मेस्सरलिन के विचार में अगर ट्रम्प“अमेरिका की प्राथमिकता”वाली एकतरफ़ावादी कार्रवाई जारी हुई, तो विश्व अर्थव्यवस्था को दूरगामी खराब प्रभाव पड़ेगा। क्षति पहुंचने वालों में दूसरे देश और विश्व अर्थव्यवस्था शामिल हैं, बल्कि अमेरिकी उद्योग भी समान भाग्य से नहीं भाग सकते। अधिक से अधिक अमेरिकी उद्योग कर बाधा को दूर करने के उपाय ढूंढेंगे, इससे अमेरिकी अर्थव्यवस्था अकेलेपन की स्थिति में फंस जाएगी।

अमेरिका की ऐसी कार्रवाई के मुकाबले में दूसरे देश कैसे करेंगे?प्रोफेसर मेस्सरलिन के विचार में अल्पकालिक समय में अमेरिका से“नहीं”कहना चाहिए। नवम्बर महीने में अमेरिका में मध्यमकालीन चुनाव आयोजित होने वाला है, इसी दौरान देश में राष्ट्रवादी भावना पैदा होने से बचना भी चाहिए।

उन्होंने कहा कि अमेरिका के बहुपक्षीय व्यापारिक तंत्र को नुकसान पहुंचाने की कार्रवाई के मुकाबले में चीन, यूरोपीय संघ और कनाडा आदि प्रमुख आर्थिक समुदायों की प्रतिक्रियाएं चाहिए, इसके साथ ही अमेरिका के भीतर समेत सभी देशों को एक साथ मिलकर बहुपक्षवाद की रक्षा भी बहुत जरूरी है।

(श्याओ थांग)

कैलेंडर

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी