शी चिनफिंग की आम लोगों के बीच में कहानी 6 --- शी चिनफिंग और अल्पसंख्यक जातीय लोगों के बीच कहानी

2019-02-10 21:35:00

“विभिन्न जातियों के लोगों को अनार के बीजों की तरह एकता बनाए रखना चाहिए।”“सर्वांगीण खुशहाल समाज की स्थापना के लिए किसी भी एक जाति की कमी नहीं होनी चाहिए।”ये चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग का वक्तव्य है, जिससे जातीय एकता और विभिन्न जातियों के समान विकास के प्रति उनकी अभिलाषा जाहिर हुई है।

चीन 56 जातियों वाला देश है, कई अल्पसंख्यक जातियां पीढ़ी दर पीढ़ी सुदूर इलाके में बसती हैं। कैसे विभिन्न जातियों के बड़े परिवार में हर एक अल्पसंख्यक जाति एक साथ सुखमय जीवन बिताएंगी?देश में सर्वोच्च नेता के रूप में शी चिनफिंग इस बात का हमेशा ख्याल रखते हैं। साल 2012 में चीनी कम्युनिस्ट पार्टी की 18वीं राष्ट्रीय कांग्रेस के आयोजन के बाद से लेकर अब तक शी चिनफिंग ने देश के कई क्षेत्रों का निरीक्षण दौरा किया, उनके पद चिह्न कई अल्पसंख्यक जातीय बहुल क्षेत्रों में मिले हैं। चाहे पहाड़ी क्षेत्रों में हो, या सुदूर इलाके ही क्यों न हों, शी चिनफिंग आम नागरिकों की जीवन स्थिति जानने उनके सामने जाते हैं और उन्होंने देश भर में जातीय एकता और अल्पसंख्यक जातीय क्षेत्रों में विकास को आगे बढ़ाने के लिए निर्णय लिया और संबंधित व्यवस्था भी की।

“आज मैं बहुत खुश हूँ। आप लोग दूर से यहां आए। सर्दियों के दिनों में ठंड होने के बावजूद पहले बर्फ़ीले पहाड़ों से बाहर नहीं निकलना आसान नहीं है।”साल 2015 में शी चिनफिंग पहली बार दूसरे स्थल के निरीक्षण दौरे के लिए पेइचिंग से निकले। उन्होंने दक्षिण पश्चिमी चीन के युन्नान प्रांत में बसी तुलोंग जातीय क्षेत्र की यात्रा की। गांव वासियों के साथ बातचीत करते हुए उन्होंने ये बात कही।

शी चिनफिंग तुलोंग जातीय लोगों के साथ बातचीत करते हुए

यहां आप को बताना चाहती हूँ कि तुलोंगच्यांग जिला युन्नान प्रांत के नूच्यांग प्रिफेक्चर स्थित कोंगशान कांउटी में बसा हुआ है, जो चीन में सबसे सुदूर इलाकों में से एक है। पहले यहां का यातायात बंद हुआ करता था, स्थिति बहुत मुश्किल थी। साल 2014 के आने की पूर्व बेला में कुछ स्थानीय सरकारी अधिकारियों ने शी चिनफिंग को पत्र लिखकर बताया कि उनका जन्मस्थान यानी काओली कांगशान तुलोंगच्यांग राजमार्ग की सुरंग का यातायात जल्द ही शुरु होगा। शी चिनफिंग ने पत्र पढ़कर जवाब देते हुए उनकी बधाई दी। एक साल बाद वे युन्नान प्रांत के निरीक्षण दौरे में खास तौर पर तुलोंग जाति बहुल क्षेत्र में आए। उन्होंने कहा:

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी