टिप्पणीः विश्व प्रशासन के लिए शी ने चीनी योजना पेश की

2019-03-28 09:39:00

26 मार्च को पैरिस में आयोजित चीन-फ्रांस वैश्विक प्रशासन मंच के समापन समारोह के दौरान चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने अधिकतर सुंदर पृथ्वी के निर्माण के लिए बुद्धिमत्ता और शक्ति प्रदान करने शीर्षक पर भाषण दिया ।शी चिनफिंग ने मानव समाज के विकास की दृष्टि से विश्व प्रशासन ,पारस्पिरक विश्वास ,शांति और विकास जैसे महत्वपूर्ण मुद्दों पर चीनी योनजा प्रस्तुत की और विभिन्न देशों से विश्व प्रशासन में दर्शक होने के बजाये सक्रियता से कदम उठाने और मानव समुदाय का भविष्य अपने हाथ में पकड़ने की अपील की।

वर्तमान विश्व गहन रूप से बदल रहा है ।एक तरफ नवोदित अर्थव्यवस्थाएं तेज़ी से बढ़ रही हैं। विश्व आर्थिक वृद्धि में उनका योगदान लगभग 80 प्रतिशत तक जा पहुंचा है। इसके साथ नये दौर की वैज्ञानिक और तकनीकी क्रांति चल रही है। दूसरी तरफ एकतरफावाद और संरक्षणवाद भी फैल रहा है। मानव विकास में अनिश्चितता और अस्थिरता नज़र आ रही है।

विश्व की दूसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था और सबसे बड़े विकासशील देश के नेता के रूप में अंतरराष्ट्रीय परिस्थिति के परिवर्तन पर शी चिनफिंग का गहन चिंतन है। वे हमेशा मानव समुदाय का साझा भविष्य और समान जीत पूरी करने के रणनीतिक दृष्टि से वर्तमान विश्व में मौजूद मुख्य समस्याओं के समाधान के लिए व्यवस्थित योजना पेश करते हैं, जिससे एक बड़े देश के नेता की ऐतिहासिक जिम्मेदारी जाहिर हुई है।

इस बार पैरिस में शी चिनफिंग ने पारस्परिक विश्वास पर खास जोर दिया ।उन्होंने कहा कि विश्वास अंतरराष्ट्रीय संबंधों में सबसे अच्छा बांडिंग एजेंट है। पारस्परिक सम्मान और विश्वास को प्राथमिकता देकर विभिन्न संस्कृतियों के मेलजोल को मज़बूत करना चाहिए ।ये मानव समुदाय के संघर्ष और वाद विवाद के समाधान के लिए विवेकपूर्ण विचार हैं।

शी चिनफिंग के भाषण के बाद फ्रांसीसी राष्ट्रपति ने सोशल मीडिया पर कहा कि यूपीय संघ और चीन को हाथों में हाथ मिलाकर वैश्विक चुनौतियों का निपटारा करना चाहिए। समापन समारोह में खास तौर पर आयी जर्मन चांसलर एंजेला मार्केल ने कहा कि जर्मनी और चीन के व्यापक समान हित हैं ।जर्मनी दूसरे एक पट्टी एक मार्ग अंतरराष्ट्रीय शिखर मंच में भाग लेगा।

(वेइतुंग)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी