टिप्पणी:टैरिफ बढ़ाने से खुद को और दूसरों को नुकसान पहुंचेगा

2019-05-10 16:53:00

टिप्पणी:टैरिफ बढ़ाने से खुद को और दूसरों को नुकसान पहुंचेगा

10 मई को अमेरिका ने 2 खरब अमेरिकी डालर के चीनी उत्पादों पर टैरिफ 10 प्रतिशत से 25 प्रतिशत तक बढ़ाया। इस के जवाब में चीन ने एक वक्तव्य जारी कर आवश्यक जवाबी उपाय उठाने की घोषणा की।

चीन और अमेरिका के बीच व्यापार संघर्ष एक बार फिर गंभीर हो रहा है। यह परिणाम खेदजनक है। इसका कारण यह है कि अमेरिका ने चीन के ईमानदार रवैये और कार्रवाई की अनदेखी की, वह हमेशा "अमेरिका प्राथमिकता" का पीछा करता है। यह मूल रूप से पारस्परिक सम्मान, समानता और आपसी लाभ के सिद्धांत का उल्लंघन करता है, जिससे दोनों पक्षों के बीच व्यापार संघर्षण गंभीर हो रहा है।

वार्ता दोनों पक्षों की बात है। चीन ने व्यवहारिक कार्यवाही से सबसे बड़ी ईमानदारी दिखाया, सबसे बड़ी कोशिश की। लेकिन इसके लिए अमेरिका को चीन के साथ आगे बढ़ाने की आवश्यकता है। वास्तव में चीन और अमेरिका के बीच आर्थिक और व्यापारिक सलाह मशविला एक वर्ष से अधिक समय चला है। अमेरिका को स्पष्ट रूप से चीन के सिद्धांत और रूख मालूम होना चाहिए। चीन सहयोग के तरीके से अमेरिका के साथ आर्थिक और व्यापारिक मतभेद और संघर्ष का समाधान करना चाहता है। लेकिन इस तरह के सहयोग का सिद्धांत है कि चीन के केंद्रीय हित और चीनी जनता के मूल हित पर नुकसान नहीं पहुंचाया जाता है।

आज लोगों को यह देखना होगा कि अमेरिका ने कई बार चीन के साथ एक ऐतिहासिक समझौता संपन्न करने की घोषणा करने के समय पर अचानक टैरिफ बढ़ाया। यह विश्व व्यापार संगठन के लिए उसका अंतरराष्ट्रीय दायित्वों का उल्लंघन किया गया, बहुपक्षीय व्यापार नियमों के लिए एक बड़ी चुनौती है, जिससे चीन और अमेरिका और विश्व के हितों को नुकसान पहुंचेगा। अमेरिकी लोगों समेत विश्व लोगों ने इस का कड़ा विरोध किया।

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी