चीन-पाकिस्तान आर्थिक कॉरिडोर की सुरक्षा की गारंटी देगा- पाकिस्तान

2019-05-17 18:36:00

हाल में पाकिस्तान के लाहौर और ग्वादर आदि स्थलों में आतंकी हमले हुए, जिससे लोग पाकिस्तान की सुरक्षा स्थिति और चीन-पाकिस्तान आर्थिक कॉरिडोर की सुरक्षा पर चिंतित हैं। पाक सेना के सार्वजनिक संबंध ब्यूरो के प्रधान आसिफ़ चफ़ूर ने 16 मई को चीनी संवाददाता को दिए एक इन्टरव्यू में कहा कि पाकिस्तान सरकार चीन-पाकिस्तान आर्थिक कॉरिडो

र में सुरक्षाकर्मियों की संख्या और शक्ति मजबूत करेगी, ताकि इस कॉरिडोर के सामने कोई भी खतरा न हो। इसके साथ ही पाकिस्तान चीन के साथ आतंक विरोधी सहयोग को मज़बूत करेगा।

आसिफ़ चफ़ूर ने कहा कि चीन-पाकिस्तान आर्थिक कॉरिडोर से पाकिस्तान के अर्थतंत्र में भारी जीवन शक्ति संचार हुई, खास कर बलुचिस्तान आदि अविकसित क्षेत्रों के विकास को संवर्धन मिला। उन्होंने कहा कि चीन-पाकिस्तान आर्थिक कॉरिडोर का विकास किया जा रहा है, सुरक्षा शक्ति की मजबूती से अधिक चीनी कर्मचारी यहां सुरक्षित काम करते हैं, स्थानीय रोज़गार को अधिक मौका मिलेगा। बलिचुस्तान की स्थिति और अच्छी होगी और ज्यादा बेहतर विकास होगा।

हाल में बलुचिस्तान प्रांत के ग्वादर पर्ल डॉटल में आतंकी हमला हुआ। जनरल चफ़ूर के विचार में हमलावर का लक्ष्य लोगों को पाकिस्तान में असुरक्षित स्थिति दिखाना है। लेकिन चीन-पाकिस्तान आर्थिक कॉरिडोर के निर्माण से प्रेरित होकर बलुचिस्तान प्रांत की आर्थिक स्थिति लगातार बेहतर होने लगी, आतंकी संगठन और अलगाव संगठन अपनी मौजूदगी की भूमि खो जाएंगी।

जनरल चफ़ूर ने कहा कि चीन-पाकिस्तान आर्थिक कॉरिडोर परियोजना और कर्मचारियों की सुरक्षा की गारंटी देना पाकिस्तान की सेना का उत्तरदायित्व है, भविष्य में पाक सेना सुरक्षा गारंटी के लिए ज्यादा अनुदान करेगी। उन्होंने यह भी कहा कि पाकिस्तान और चीन आतंक विरोधी क्षेत्र में सहयोग मजबूत करेगा, ताकि पाकिस्तान की और क्षेत्रीय सुरक्षा, चीन-पाकिस्तान आर्थिक कॉरिडोर के बेरोकटोक निर्माण को समान रुप से रक्षा की जा सके।

(श्याओ थांग)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी