टिप्पणी:चीन-रूस सहयोग से विश्व को अधिक निश्चितता प्राप्त होगी

2019-06-07 19:13:00

चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने 5 जून को मॉस्को में रूसी राष्ट्रपति पुतिन के साथ दो संयुक्त वक्तव्यों पर हस्ताक्षर किये और नये काल में चीन-रूस पूर्ण रणनीतिक साझेदार संबंधों का विकास करने और विश्व रणनीतिक निश्चितता को मजबूत करने के लिए समान प्रयास करने की घोषणा की।

इस साल चीन-रूस संबंधों की स्थापना की 70वीं जयंती है। विश्व की स्थितियों में 100 वर्षों के अभूतपूर्व परिवर्तन आने की स्थिति में चीन और रूस के बीच संबंधों को नये रणनीतिक स्तर पर पहुंचाया गया है जिससे दोनों पक्षों और यहां तक सारी दुनिया की स्थितियों पर गहरा प्रभाव पड़ेगा। नये काल के चीन-रूस संबंधों का अर्थ है कि दोनों पक्ष पारस्परिक विश्वास की नींव बनाए रखकर एक दूसरे के केंद्रीय हितों का समर्थन करेंगे और आपस में हितों का एकीकरण कर बेल्ट एंड रोड को यूरोप-एशिया आर्थिक गठबंधन के साथ जोड़ेंगे। साथ ही दोनों देश जनता और समाज के विभिन्न क्षेत्रों के बीच आदान प्रदान को बढ़ावा देंगे, संयुक्त राष्ट्र संघ से केंद्रित अंतर्राष्ट्रीय प्रणाली की रक्षा करेंगे और नये ढ़ंग के अंतर्राष्ट्रीय संबंधों व समान भाग्य वाले समुदाय के निर्माण पर जोर देंगे।

चीन-रूस संबंधों के विस्तार से दोनों देशों की जनता को अधिक लाभ मिलेगा। गत वर्ष चीन-रूस व्यापार का पैमाना 1 खरब अमेरिकी डालर तक जा पहुंचा है, जो पिछले साल से 27 प्रतिशत अधिक रही। चीन-रूस संयुक्त वक्तव्य जारी करने के साथ-साथ दोनों देशों ने व्यापार, निवेश, उद्योग और शिक्षा के सहयोग के बारे में 23 दस्तावेज़ों पर हस्ताक्षर किये, जिनमें चीन-रूस परमाणु ऊर्जा निर्माण परियोजना, चीन में ऊर्जा संयुक्त उद्यम की स्थापना, आर्कटिक क्षेत्र में प्राकृतिक गैस संसाधनों के विकास में चीन की भागीदारी और चीन-रूसी विज्ञान और प्रौद्योगिकी नवाचार कोष की स्थापना में एक अरब अमेरिकी डॉलर का संयुक्त कोष की स्थापना आदि शामिल हैं। इसके अलावा दोनों देश एक दूसरे के क्षेत्रीय सहयोग पर भी जोर देने के लिए कदम उठाएंगे। रूसी राष्ट्रपति के आर्थिक सलाहकार सर्गेई ग्लेज़िव ने कहा कि यदि रूस और चीन के बीच आर्थिक पूरक का लक्ष्य साकार हो, तो पांच सालों के भीतर द्विपक्षीय व्यापार की मात्रा 2 खरब अमेरिकी डॉलर के लक्ष्य तक जा पहुंचेगा। और इसके अतिरिक्त दोनों देश अंतर्राष्ट्रीय मामलों में अधिक तालमेल बिठा सकेंगे जिससे एकतरफावाद तथा संरक्षणवाद का मुकाबला करने में हितकारी सिद्ध होगी।

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी