काम के साथ अच्छा व्यवहार भी ज़रूरी - राकेश श्रीवास्तव

2019-06-12 14:38:00

मुंबई आने और काम मिलने से पहले के दिन बहुत महत्वपूर्ण होते हैं। निजी चैनल उस समय शुरु हो रहे थे, इसलिये काम मिलना आसान नहीं था, तब राकेश ने डबिंग और वॉयस ओवर करना शुरु किया, जिससे मकान का किराया और बाकी ज़रूरतें पूरी हो जाती थीं। अपने एक्टिंग के गुरु अनुपम खेर से गुरुमंत्र के रूप में राकेश ने हर प्रोडक्शन हाउस में जाकर अपनी उपस्थिति दर्ज कराना शुरु किया। जिससे इन्हें आगे काम मिलने में आसानी रहे।

मुंबई में आने के बाद राकेश को जो सबसे पहले जो फिल्म मिली उसका नाम था एक लड़का एक लड़की, जिसमें सलमान खान, नीलम और अनुपम खेर ने काम किया था। देख भाई देख और बाप रे बाप जैसे सीरियलों से राकेश श्रीवास्तव ने काम की शुरुआत की है। एक बार शुरुआत हो जाने के बाद गाड़ी चल निकली और राकेश घर घर में लोगों द्वारा पहचाने जाने लगे। फिलहाल इन दिनों राकेश ने टीवी की दुनिया से कुछ समय के लिये विराम लिया है और लघु फ़िल्में, वेब सीरीज़ के साथ फ़ीचर फ़िल्मों में अपना ध्यान लगा रहे हैं। राकेश ये मानते हैं कि आज चैनलों के बढ़ने के कारण लोगों को पहले के मुकाबले ज्यादा काम मिल रहा है, जिसकी वजह से प्रतिस्पर्धा बढ़ी है और ये प्रतिस्पर्धा दर्शकों को अच्छे मनोरंजन ज़रूर मुहैया करवाएगी। राकेश मानते हैं कि आपमें अभिनय प्रतिभा के साथ साथ आपका व्यवहार भी बहुत अच्छा होना चाहिए क्योंकि जैसे आप अच्छे काम की तलाश में रहते हैं वैसे ही प्रोडक्शन हाउस भी अच्छे कलाकारों की तलाश में रहते हैं। मनोरंजन की दुनिया में आने वाले दिनों में लोगों को बहुत अच्छा मनोरंजन देखने को मिलेगा ऐसा राकेश श्रीवास्तव का मानना है।

पंकज श्रीवास्तव

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी