(इंटरव्यू) अमेरिका दादागिरी बंद करे, वार्ता की मेज पर लौटे : कुलपति विद्युत चक्रवर्ती

2019-06-27 20:38:00

28 से 29 जून को जापान के ओसाका शहर में जी20 शिखर सम्मेलन हो रहा है, जिसमें चीन, भारत, अमेरिका समेत दुनिया की 20 बड़ी अर्थव्यवस्थाएं भाग ले रही हैं। भारत के पश्चिम बंगाल के शहर शान्ति निकेतन में बसा विश्वभारती विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. विद्युत चक्रवर्ती ने सीआरआई के साथ बातचीत में कहा कि जापान में हो रहे जी20 शिखर सम्मेलन का स्वागत करता हूं और मानता हूं कि हर मुद्दे पर बातचीत जरूर होनी चाहिए। जी20 सदस्य देशों के नेता बातचीत से समस्याओं को हल करेंगे।

प्रो. विद्युत चक्रवर्ती ने बातचीत में यह भी कहा कि आज चीन और अमेरिका के बीच व्यापारिक घर्षण चल रहा है, उसके लिए अमेरिका जिम्मेदार है। अमेरिका अपनी दादागिरी और धौंस दिखा रहा है। अमेरिका को न्याय के रास्ते पर चलना चाहिए और दुनिया के अन्य देशों के बारे में भी सोचना चाहिए। उन्होंने बातचीत में यह भी कहा कि अमेरिका और चीन को वार्ता की मेज पर आना पड़ेगा। इस तनाव को बातचीत के जरिए ही सुलझाया जा सकता है।

प्रो. विद्युत चक्रवर्ती ने यह भी कहा कि इस व्यापारिक घर्षण पर चीन का जो रूख है, उसका मैं समर्थन करता हूं। भारत को भी चीन का साथ देना चाहिए, न केवल भारत को बल्कि अन्य देशों को भी चीन के साथ अपनी आवाज बुलंद करनी चाहिए। अमेरिका की यह दादागिरी खत्म होनी चाहिए। उनका मानना है कि जी20 शिखर सम्मेलन के दौरान दुनिया की 20 बड़ी अर्थव्यवस्थाएं जब वार्ता करेंगी, तो विश्व कल्याण के साथ-साथ मानव कल्याण के लिए भी बेहतर होगा।

(अखिल पाराशर)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी