ओसाका में शी चिनफिंग और शिंजो अबे की भेंट वार्ता

2019-06-28 09:40:00

चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने 27 जून की रात को ओसाका में जापानी प्रधानमंत्री शिंजो अबे के साथ वार्ता की। शी चिनफिंग ने कहा कि हाल के कई वर्षों में वे अबे के साथ घनिष्ठ संपर्क और आदान-प्रदान करते रहे हैं, और एक साथ चीन-जापान संबंधों के सुधार और विकास का नेतृत्व करते रहे हैं। दोनों देशों के संबंधों में नयी स्थिति पैदा हुई है।

दोनों देशों के नेताओं ने यह दोहराया कि दोनों देशों को चीन और जापान के बीच चार राजनीतिक दस्तावेज़ों में निश्चित विभिन्न नीति-नियमों का पालन करना चाहिये। चीन और जापान को एक दूसरे का सहयोग साझेदार और आपस में धमकी न देने की राजनीतिक सहमति को लागू करना चाहिये। दोनों को प्रतिस्पर्धा को समन्वय की ओर बदलने की भावना के आधार पर चीन-जापान संबंधों को सही रास्ते पर बढ़ावा देना चाहिये।

अबे ने जापान सरकार की ओर से शी चिनफिंग को अगले वर्ष के वसंत में जापान की राजकीय यात्रा करने का आमंत्रण दिया। इस बात पर दोनों देशों के विदेश मंत्रालय ठोस समय का आदान-प्रदान करेंगे।

दोनों नेता चीन और जापान के बीच विज्ञान, तकनीक के सृजन, बौद्धिक संपदा की संरक्षण, आर्थिक और व्यापारिक पूंजी-निवेश, वित्त, चिकित्सा, बुजुर्गों की देखभाल, ऊर्जा की किफ़ायत और पर्यावरण संरक्षण, पर्यटन जैसे क्षेत्रों में आपसी लाभदायक सहयोग को मज़बूत करने पर सहमत हैं।

जापान के विचार में बेल्ट एंड रोड पहल विभिन्न क्षेत्रों के बीच संपर्क बनाने की एक अच्छी योजना है, जिसकी निहित शक्ति बहुत बड़ी है। चीन जापान को बेल्ट एंड रोड के निर्माण में भाग लेने का स्वागत करता है।

दोनों पक्षों ने बल देकर कहा कि चीन और जापान दोनों एशियाई सभ्यताओं के विकास में महत्वपूर्ण योगदान कर्ता हैं। एशियाई सभ्यता में मिली उपलब्धियों का विकास करना चाहिये, विभिन्न सभ्यताओं के बीच समानता से वार्ता, आदान-प्रदान और एक दूसरे से सीखने का आह्वान करना चाहिये, साथ ही इतिहास और संस्कृति के स्रोत के आधार पर मानवीय आदान-प्रदान और सहयोग को मज़बूत बनाना चाहिये।

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी