टिप्पणीः चीन-यूरोप संबंध आशावान

2019-07-09 17:20:00

चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने 7 जुलाई को बेल्जियम के प्रधानमंत्री चार्ल्स मिशेल को यूरोपीय परिषद के नए अध्यक्ष बनने पर फोन करके बधाई दी। शी चिनफिंग ने कहा कि चीन अंतर्राष्ट्रीय मामलों में और अहम भूमिका निभाने में यूरोप का समर्थन करता है और शांति, वृद्धि, सुधार और सभ्यता वाले चीन-यूरोप साझेदारी का विकास बढ़ाना चाहता है। इससे यूरोप के साथ सहयोग करने की चीन की इच्छा ज़ाहिर हुई है।

इस साल यूरोपीय राजनीति में बदलाव का वर्ष है। चुनाव के बाद यूरोपीय संघ के नए नेता निर्वाचित हुए हैं। बेल्जियम के प्रधानमंत्री चार्ल्स मिशेल यूरोपीय परिषद के नए अध्यक्ष बनेंगे, जर्मन प्रतिरक्षा मंत्री उर्सुला वॉन डेर लेयेन यूरोपीय आयोग की नई अध्यक्ष बनेंगी, अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष की वर्तमान अध्यक्ष क्रिस्टीन लेगार्ड यूरोपीय केन्द्रीय बैंक की महानिदेशक बनेंगी और स्पेन के विदेश मंत्री जोसेफ बोरेल फोंटेल्स कूटनीति और सुरक्षा नीति के लिए वरिष्ठ प्रतिनिधि बनेंगे। कहा जा सकता है कि भविष्य के पाँच सालों में यूरोपीय संघ का नेतृत्वकारी ग्रुप स्थापित हो चुका है।

चीन-यूरोप संबंधों के भविष्य पर अंतर्राष्ट्रीय समुदाय आशावान है। यह दोनों पक्षों के साझा हितों के लगातार बढ़ने के आधार पर निर्भर रहता है। इस साल के वसंत में चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग और प्रधानमंत्री ली खछ्यांग क्रमशः यूरोप की यात्रा की। पिछले अप्रैल में आयोजित 21वें चीन-यूरोपीय संघ शिखर सम्मेलन में दोनों पक्षों ने शांति, वृद्धि, सुधार और सभ्यता वाले द्विपक्षीय साझेदारी में नई प्रगति बढ़ाने को दोहराया और वर्ष 2020 के बाद सहयोग की योजना बनाई। इससे देखा जाए, तो यूरोपीय संघ के नेतृत्वकारी ग्रुप में बदलाव होने से चीन-यूरोप सहयोग पर असर नहीं पड़ेगा।

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी