शानक्शी प्रांत में सांस्कृतिक विरासत के उत्तराधिकार में नवाचार

2019-08-28 17:46:00

चीनी राज्य परिषद के समाचार कार्यालन ने 28 अगस्त को नये चीन की 70वीं जयंती पर शानक्शी प्रांत में एक विशेष न्यूज़ ब्रीफिंग आयोजित की। प्रेस सम्मेलन के आयोजन के साथ प्रांत की गैर-भौतिक सांस्कृतिक विरासत जैसी छाया कठपुतली और मिट्टी की मूर्तियों का प्रदर्शन किया गया।

चीन में छाया कठपुतली या छाया खेल वाली कला का हजार साल पुराना इतिहास है। वर्ष 2011 में इसे "अमूर्त सांस्कृतिक विरासत की सूची" में शामिल किया गया। शानक्सी प्रांत की ह्वाश्यैन काउंटी में छाया कठपुतली खेलने की पुरानी परंपरा है और इसे "फिल्म का पूर्वज" बताया गया है। राष्ट्र स्तरीय गैर-भौतिक विरासत की उत्तराधिकारी वांग हाई यान ने कहा कि आधुनिक समाज में परंपरागत सांस्कृतिक विरासत की शक्ति उजागर करने के लिए उन्होंने छाया कठपुतली बनाने के कौशल और प्रदर्शन रूप में नवाचार किया है।

उधर प्रांत की फंगश्यांग काउंटी में प्रचलित मिट्टी की मूर्तियां बनाने की बहुत पुरानी परंपरा है। वर्ष 2006 में इसे भी राष्ट्र स्तरीय गैर-भौतिक विरासत की सूची में शामिल किया गया। मिट्टी की मूर्ति कला के उत्तराधिकारी हू शिन मिंग ने कहा कि गैर-भौतिक सांस्कृतिक विरासत का अच्छी तरह संरक्षण करने के लिए इसमें आधुनिक जीवन को मिलाकर रखना चाहिये। वे प्रति वर्ष मिट्टी की मूर्ति कला की शैली के डेढ़ लाख कप और शराब सेट जैसी वस्तुओं का उत्पादन करते हैं और इन उत्पादों से 1.6 करोड़ युआन की कमाई हुई।

( हूमिन )

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी