तिब्बत प्राचीन सांस्कृतिक संपत्तियों के संरक्षण पर ज़ोर दे रहा है

2017-09-25 09:49:02

सुंदर पोताला महल

तिब्बत की यात्रा में न सिर्फ शानदार और सुंदर प्राकृतिक दृश्य देखने को मिलते हैं, बल्कि यहां विशिष्ट और प्रचुर ऐतिहासिक - सांस्कृतिक संसाधनों का आनंद उठाया जा सकता है। तिब्बत स्वायत्त प्रदेश चीन के महत्वपूर्ण ऐतिहासिक अवशेष संरक्षण वाले प्रांतों - प्रदेशों में शुमार है, जहां विश्व की छत पर रत्न कहा जाने वाला पोताला महल समेत कई हजार ऐतिहासिक अवशेष संरक्षण इकाईयां बसी हुई हैं। तिब्बत की ऐतिहासिक संपत्तियों की सुरक्षा के लिए स्थानीय सरकार ने नाना प्रकार के कदम उठाये ताकि पूर्वजों द्वारा रची गई ऐतिहासिक संपत्तियां हमेशा अच्छी स्तिथि में बनी रहें और विश्व भर के पर्यटक जीवंत इतिहास का अनुभव कर सकें।

ल्हासा नदी घाटी के केंद्र में लाल पहाड़ पर स्थित पोताला महल तिब्बती बौद्ध मठ, महल और केले से गठित वास्तु निर्माण का श्रेष्ठ प्रतिनिधि है और तिब्बत में सबसे बड़ा और संपूर्ण प्राचीन महल समूह है। चीनी मुद्रा रनमिनबी के पांचवें सेट की 50 युआन नोट के पीछे पोताला महल का चित्र बना हुआ है। दिसंबर 1994 में पोताला महल विश्व ऐतहासिक धरोहरों की नाम सूची में शामिल किया गया। बाद में ल्हासा स्थित जोखांग मंदिर और नोर्बुलिंगका उद्यान को भी इस सूची में शामिल किया गया। पोताला महल की बेहतर सुरक्षा के लिए 14 जुलाई 2008 को तिब्बत स्वायत्त प्रदेश सरकार ने एक दिन में पोताला महल की यात्रा करने वाले लोगों की संख्या सीमित कर दी। पर्यटकों को एक दिन पहले टिकट बुकिंग करना ज़रूरी होता है और निर्धारित समय पर यात्रा करना होता है।

ग्रीष्म ऋतु तिब्बत घूमने का सबसे अच्छा मौसम है। हर दिन महज़ 5 हजार लोगों को पोताला महल देखने का मौका मिलता है। पोताला महल प्रबंधन विभाग के उप निदेशक चुएतान ने बताया कि तिब्बत के इस नाम कार्ड की सुरक्षा के लिए पर्यटकों की संख्या सीमित करना पर्यटन के विकास और ऐतिहासिक अवेशष की सुरक्षा दोनों का ख्याल रखने वाला एक उपाय है। उन्होंने कहा, इस सवाल के बारे में हमने भी बहुत सोचा था। लेकिन पोताला महल की वस्तुगत स्थिति वहीं है। उसके पास, सीढियां और कुछ महल बहुत संकीर्ण या छोटे हैं और लकड़ी से बने हैं। अगर यहां पर अधिक लोग आते हैं, तो ढहने का खतरा मौजूद है। हमने सर्वेक्षण और माप कर पर्यटकों की संख्या निर्धारित की है।

1234...>

कैलेंडर

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी