चौथे चीनी तिब्बत पर्यटन और संस्कृति अंतरराष्ट्रीय मेले का आयोजन

2018-09-11 18:42:01

चौथा चीनी तिब्बत पर्यटन और संस्कृति अंतरराष्ट्रीय मेला 7 सितंबर की रात को तिब्बत स्वायत्त प्रदेश की राजधानी ल्हासा में स्थित नागरिक संस्कृति और खेल केंद्र में उद्घाटित हुआ। देसी-विदेशी प्रसिद्ध विशेषज्ञों, बड़े उद्यमों के प्रतिनिधियों और व्यापारियों आदि 1300 से अधिक लोगों ने उद्घाटन समारोह में भाग लिया। मेला 7 से 11 सितंबर तक आयोजित हुआ।

इस मेले का मुख्य विषय “नये तिब्बत की यात्रा और तीसरे ध्रुव की रक्षा” है। चीनी संस्कृति और पर्यटन मंत्रालय और तिब्बत स्वायत्त प्रदेश की सरकार ने इस मेले का संयुक्त रूप से आयोजन किया। ल्हासा शहर में इस एक्सपो का मुख्य प्रदर्शनी स्थल है, जबकि निंगची शहर में शाखा प्रदर्शनी स्थल है। इस एक्सपो में उद्घाटन समारोह, प्रदर्शनी, उत्पादों की प्रदर्शनी, बिक्री, मंच, तिब्बत की यात्रा का परिचय देना, निवेश पदोन्नति, आर्थिक-व्यापार वार्ता, समापन समारोह और हस्ताक्षर समारोह आदि कार्यक्रम शामिल हैं। चीनी कम्युनिस्ट पार्टी की तिब्बत शाखा के सचिव वू ईंग च्ये ने मेले का उत्घाटन घोषित किया। मौजूदा मेले में भागीदारी के लिए ग्रीस, मंगोलिया, स्पेन, हंगरी आदि 9 देशों के प्रतिनिधियों, देश भर में विभिनन प्रांतों और शहरों एवं विभिन्न सामाजिक जगतों के व्यक्तियों को आकृष्ट किया।

इस मेले में उद्योगधंधों के लिए अंतरराष्ट्रीय, उच्च स्तरीय और मानकीकृत प्रदर्शन मंच बनाया गया है। तीसरे मेले की तुलना में वर्तमान मेले का क्षेत्रफल एक हजार वर्ग मीटर अधिक विस्तृत हो गया है। देश विदेश के कुल 230 कारोबारों ने मेले में भाग लिया। उनमें 96 परदेशीय ही हैं। थाइलैंड, मलेशिया और पाकिस्तान समेत पूर्वी दक्षिणी एशिया के देशों के कारोबारों ने भी प्रथम बार मेले में भाग लिया।

मेले में कुल सौ से अधिक किस्मों के उत्पाद प्रदर्शित हैं। उनमें पारंपरिक उत्पादों के अलावा तिब्बती दवा, जौ नूडल्स और मिट्टी के बर्तन चित्र आदि का प्रदर्शन भी किया गया है। दूसरे देशों से आये जेड और हस्तशिल्प वस्तुओं आदि का व्यापक स्वागत किया गया है।

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी