तिब्बत में जातीय एकता की अच्छी स्थिति बनी हुई है

2018-11-19 15:31:00

यह कहा जा सकता है कि तिब्बत में जातीय एकता होने की स्थिति पार्टी व सरकार के अथक प्रयासों का परीणाम है। स्थानीय सरकार ने पृथकतावाद के विरूद्ध निरंतर प्रसारण किया। और जनता को देशभक्ति और समाजवाद शिक्षण दिया। विभिन्न जातियों के लोगों में चीनी राष्ट्र एकीकरण का विचार बढ़ाया गया। साथ ही अल्पसंख्यक जातीय कर्मचारियों, छात्रों तथा मंदिर के साधुओं को कानून प्रशासन का विचार बढ़ा दिया। पार्टी के कर्मचारियों तथा आम लोगों में जातीय व धार्मिक सिद्धांतों का प्रसार भी किया गया है। आंकड़ों के अनुसार हाल के वर्षों में तिब्बत स्वायत्त प्रदेश में कुल 19 जातीय एकता आदर्श इकाइयां, छह जातीय एकता शिक्षा अड्डे तथा दस जातीय एकता व प्रगति गतिविधियों के लिए मॉडल यूनिट तय किये गये हैं। ल्हासा शहर को राष्ट्रीय जातीय एकता व प्रगति आदर्श शहर का नाम भी समर्पित किया गया है। प्रदेश में कुल 998 व्यक्तियों को भी जातीय एकता पुरस्कार सौंपा गया है। आज "जातीय एकता से सुख आना, विभाजन से आपदा पैदा होना" का नारा, तिब्बत में सभी लोगों का आम विचार बन गया है।

जातीय एकता को बनाये रखने का उद्देश्य, देश में विभिन्न जातियों के लोगों को खुशहाल जीवन दिलाना है। पार्टी की सौहार्दपूर्ण देखभाल तथा सरकार की अधिमानी नीतियों के कार्यान्वयन से तिब्बत स्वायत्त प्रदेश में विभिन्न जातियों के बीच में सामंजस्य होने की स्थितियां पैदा हुई हैं। केंद्र में द्वितीय तिब्बत कार्य सम्मेलन के आयोजन से बहुत से कर्मचारियों, मजदूरों और व्यापारियों ने भीतरी इलाकों से तिब्बत की सहायता में पठार में काम करना शुरू किया। उन्हों ने अपने नये विचारों और तरीकों से तिब्बत और भीतरी इलाकों के बीच आदान प्रदान को बढ़ाने के लिए सकारात्मक कोशिश की है।

एक मां की दो बेट्टियां

तिब्बत में यह गीत इधर उधर सुनता जा रहा है,“हान जाति और तिब्बती जाति एक मां की दो बेट्टियां हैं। दोनों की मां है चीन।” जातीय एकता का गीत तिब्बती पठार के चारों ओर गूंज रहा है। इधर के दशकों में तिब्बती पठार पर रहने वाले लोगों ने देश के दूसरे क्षेत्रों के साथ साथ आर्थिक व सामाजिक विकास के संदर्भ में निरंतर प्रगतियां हासिल की हैं। विभिन्न जातियों के बीच एक दूसरे से सीखकर आपस में गहरी भावना भी पैदा हो गयी है। समानता, एकता, आपसी मदद और सामंजस्य वाले समाजवादी जातीय संबंधों को निरंतर मजबूत किया गया है। चीनी कम्युनिस्ट पार्टी की 18वीं राष्ट्रीय कांग्रेस के आयोजन से पार्टी की केंद्रीय कमेटी ने तिब्बत के निर्माण को अधिक सहायता प्रदान करने की नीति बनायी। तिब्बत स्वायत्त प्रदेश में गांवों और मंदिरों में कर्मचारी दल भेजा गया है, शहरों व टाउनशिपों के प्रबंधन को मजबूत किया गया है और एकीकृत सामाजिक सुरक्षा व्यवस्था लागू की गयी है। जिनसे तिब्बत की स्थिरता और जातीय एकता की गारंटी की गयी है। पता चला है कि वर्ष 2012 से आज तक तिब्बत स्वायत्त प्रदेश में आपराधिक मामलों और सार्वजनिक सुरक्षा मामलों की स्पष्ट गिरावट आई है। त्यौहारों और धार्मिक पर्वतों के समय समाज सामंजस्यपूर्ण और स्थिर बना रहा है। तिब्बत में लोगों के लिए सुरक्षा की भावना पूरे देश की अग्रिम पंक्ति पर रही है।

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी