तिब्बत में वैज्ञानिक और तकनीकी प्रगतियों से आर्थिक विकास को बढ़ावा

2019-01-28 09:01:03

तिब्बत स्वायत्त प्रदेश की सरकार के नेतृत्व में ल्हासा शहर में सात प्रमुख मुद्दे चलाये जाएंगे। नये साल में ल्हासा शहर में तकनीकी नवाचार और छोटे व मझौले कारोबारों के विकास को संवर्धित किया जाएगा। ल्हासा शहर में नवाचार और कालेज स्नातकों के रोजगार संवर्द्धन समेत योजनाएं लागू की जाएंगी। वर्ष 2016 में ल्हासा शहर में छोटे व मझौले कारोबारों के नवाचार का परीक्षण किया गया था। इधर के वर्षों के प्रयासों से तकनीकी नवाचार को बढ़ाने की नौ सेवा व्यवस्थाओं की स्थापना की गयी। इसी वर्ष में ल्हासा शहर में छोटे व मझौले कारोबारों के नवाचार को संवर्द्धित करने की विशेष कार्यवाही चलायी जाएगी, ताकि नवाचार के जरिये रोजगार दिलाने और मशहूर ब्रांड्स पैदा करवाने की योजनाएं लागू की जाएं। इस के बाद वाणिज्यिक प्रणाली में सुधार, बौद्धिक संपदा संरक्षण तथा कर-वसुली स्व-सेवा को मजबूत किया जाएगा। सात प्रमुख योजनाएं कायम करने के बाद ल्हासा शहर में छोटे व मझौले कारोबारों की नवाचार क्षमता को उन्नत किया जाएगा, और ल्हासा के आर्थिक व सामाजिक विकास में नवाचार की भूमिका को उजागर किया जाएगा। तिब्बत स्वायत्त प्रदेश में स्थानीय सरकार का मानना है कि नवाचार करने के लिए सर्वप्रथम प्रतीभाओं का प्रशिक्षण किया जाना चाहिये। हाल में ल्हासा शहर ने अपने कुछ युवकों को देश की राजधानी पेइचिंग में आयोजित रसद ई-कॉमर्स के नवाचार प्रशिक्षण में शामिल करवाने के लिए भेज दिया। योजना में शिरकत सभी 28 युवक कॉलेजों के नये स्नातक हैं। उन्होंने राजधानी पेइचिंग में डिजाइन प्रशिक्षण पाठ्यक्रम, नवाचार सिद्धांत तथा व्यावहारिक प्रबंधन आदि कोर्स में भाग लिया। और कुछ उन्नतिशील नवाचार अड्डों का दौरा भी किया। ल्हासा लौटने के बाद वे तिब्बत के नवाचार अभियानों में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे।

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी