तिब्बती हस्तशिल्प कला का जी-जान से विकास

2019-04-08 10:35:00

कंपनी के कर्मचारियों में से कुछ गूंगे-बहरे लोग भी हैं, उन के साथ संपर्क रखने के लिए नोर्बू ने सांकेतिक भाषा भी सीखी। नोर्बू अपने कर्मचारियों को अधिक किताबें पढ़ने के लिए प्रोत्साहित करते हैं। उन्होंने कहा, वास्तव में हम परिवारजनों के जैसे हैं, रोज़ साथ साथ काम करते हैं और रहते भी हैं। इसलिये हमारे कारखाने में सभी लोगों को सांकेतिक भाषा सीखना चाहिये। काम करने के अलावा नोर्बू के कर्मचारी भी समाज की परोपकारी गतिविधियों में भाग लेने जाते हैं और दूसरों की मदद करने में खुशी का अनुभव कर सकते हैं। नोर्बू ने कहा,“आम तौर पर मैं अकसर अपने कर्मचारियों के साथ साथ ऐसी गतिविधियों में भाग लेने जाता हूं। क्योंकि गरीबी उन्मूलन में सबसे अहम है बौद्धिक सहायता देना। हमारे चर्मचारियों को भी यह लगता है कि उन की कोशिशों से दूसरों को मदद मिल पाएगी।”

वर्ष 2018 में कंपनी की व्यापार मात्रा 70 लाख युआन तक रही, यह सरकार की सहायता का परीणाम भी है। गत वर्ष कंपनी को सरकार के द्वारा प्रस्तुत 23 लाख युआन की भत्ता दी गयी है जिससे कंपनी की बिक्री में बड़ी मदद मिली। नोर्बू ने कालेज़ में सीखी कंप्यूटर ज्ञान से कंपनी के लिए एक वेब साइट स्थापित किया, जिससे उपभोक्ता अपने व्यक्तिगत उत्पादों को ऑनलाइन ऑर्डर कर सकते हैं। इसका मतलब है कि उपभोक्ता वेब साइट से अपना डिजाइन कंपनी को भेज सकते हैं, और बाद में कोरियर से अपना उत्पाद ले सकते हैं। नोर्बू ने कहा,“कंपनी में सभी कर्मचारी मेहनती से काम कर रहे हैं। हम कंपनी के दूसरा चरण का विकास तैयार कर रहे हैं। जो त्वेईलूंग औद्योगिक पार्क में स्थित होगा। अनुमान है कि तीन सालों के भीतर हमारे कारखाने में एक हजार रोजगार मौका तैयार हो जाएगा।”

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी