तिब्बत में शिक्षा कार्य के विकास की कहानियां

2019-06-18 11:32:59

ल्हासा शहर में स्थापित पेइचिंग प्रायोगिक मिडिल स्कूल के अध्यापक मेई त्सेरिंग ने अपने पद पर ग्यारह सालों के लिए काम किया है। अपने श्रेष्ठ कार्यों के कारण मेई त्सेरिंग को "ल्हासा शहर श्रेष्ठ शिक्षक" और "जातीय एकता आदर्श व्यक्ति" आदि पुरस्कार से सम्मानित किया गया है। मिडिल स्कूल के छात्र अपने इस अध्यापक से बहुत प्यार करते हैं। मेई त्सेरिंग ने कहा कि मैं वर्ष 2015 से ल्हासा के पेइचिंग प्रायोगिक मिडिल स्कूल में काम करना शुरू किया। मुझे लगता है कि पार्टी और केंद्र सरकार ने तिब्बत के विकास में तेज़ी लाने के लिए भीतरी इलाकों से अध्यापक भेजा है। जो जातीय एकता और समान समृद्धि को साकार करने के लिए महत्वपूर्ण है। हमें, जो यह पद संभालते हैं, भारी जिम्मेदारी उठानी चाहिये। वर्ष 2017 में अपना प्रथम कार्य काल समाप्त होने के बाद स्थानीय छात्रों और उन के परिवारजनों की मांग से मेई त्सेरिंग ने एक नया काल शुरू किया।

मेई त्सेरिंग ने अकसर यह कहा कि बच्चों की आंखों को पहाड़ से अवरुद्ध नहीं किया जाना चाहिये। इस का अर्थ है कि सुनसान क्षेत्रों में रहने के बावजूद छात्रों को बाह्य क्षेत्रों की जानकारियां और उन्नतिशील ज्ञान से अवगत कराया जाना चाहिये। मेई त्सेरिंग अपने छात्रों की ठोस स्थितियों के मुताबिक शिक्षण योजना और सामग्रियों का समायोजन किया करते हैं। वे कभी कभी अपने अवकाश के समय छात्रों को परामर्श प्रदान करते हैं। मेई त्सेरिंग की मेहनती से इन के क्लास में छात्रों का स्कोर हमेशा अग्रिम पंक्ति पर रहता है। छात्रों के द्वारा आयोजित श्रेष्ठ अध्यापक चुनाव में उन्होंने स्कूल के सभी अध्यापकों में सबसे अधिक वोट जीत लिये। मेई त्सेरिंग ने कहा कि हमें राजधानी पेइचिंग से उन्नतिशील शिक्षा विचार सीखकर ल्हासा के शिक्षा स्तर को उन्नत करना चाहिये। यह मेरा मिशन है। उन्होंने अपने क्लासरूम में बहुत सारे आधुनिक शिक्षा उपकरणों का इस्तेमाल किया और छात्रों को ज्ञान के सागर में तैराने का प्रयास किया। साथ ही उन्होंने अपने अनुभवों और शिक्षण सामग्रियों का साझा भी किया ताकि उन्हें भी जल्दी से कुशल बनाया जा सके। मेई त्सेरिंग मेहनती से काम करते हैं। जब उन के क्लासरूम में कुछ छात्रों की बीमारी या परिवार में कठिनाई हो, तब तो वे जरूर ही उन की मदद करते हैं। साथ ही उन्होंने परोपकारी संगठनों के साथ संपर्क रखकर कई छात्रों की सहायता दी।

1234...>

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी