एक दूसरे से संपर्क बढ़ाकर चीन के सिनच्यांड के दोस्तों का दायरा और व्यापक है

2019-07-29 14:11:00

चीन का सिनच्यांड वेवुर स्वायत्त प्रदेश यूरेशियन महाद्वीप के मध्य में स्थित है। वह उत्तर पश्चिमी चीन का एक प्रांत है। इस प्रांत की सीमा मंगोलिया, रूस, कजाकिस्तान, किर्गिज़स्तान, ताजिकिस्तान, अफगानिस्तान, पाकिस्तान, भारत आदि 8 देशों से लगी हुई है। सिनच्यांड प्रांत में भूमि की सीमा की लंबाई 5 हजार 7 सौ किलोमीटर से अधिक है। वह चीन का सबसे बड़ा प्रांत है, जिसकी भूमि सीमा सबसे लंबी है और पड़ोसी देशों की सबसे बड़ी संख्या भी है।

इधर के वर्षों में चीन द्वारा प्रस्तुत बेल्ड एंड रोड पहल को आगे बढ़ाये जाने के साथ सिनच्यांड अपनी स्थान की श्रेष्ठता से सक्रिय रूप से खुलेपन के नए स्वरूप का निर्माण कर रहा है।

एक दूसरे से संपर्क बढ़ाने में सकारात्मक प्रगति हासिल हुई है

सड़क गलियारों के निर्माण के पहलू से देखा जाए, तो सिनच्यांड और आसपास के पांच देशों ने 111 अंतर्राष्ट्रीय सड़क परिवहन मार्ग खोले हैं। चीन - किर्गिज़स्तान – उज्बेकिस्तान अंतर्राष्ट्रीय सड़क पर माल परिवहन सामान्यीकृत है।

रेलवे मार्ग निर्माण के पहलू से देखा जाए, तो सिनच्यांड प्रांत की राजधानी ऊरुमूछी से चीन के भीतरी इलाकों तक का हाई-स्पीड रेलवे पूरे देश से जुड़ा हुआ है। 2014 से अब तक सिनच्यांड प्रांत में नया रेलवे माइलेज 1 हजार 3 सौ 20 किलोमीटर है, और सिनच्यांड का कुल रेलवे माइलेज 6 हजार 2 सौ 31 किलोमीटर तक पहुंच गया।

वायु मार्ग के निर्माण के पहलू से देखा जाए, तो सिनच्यांड प्रांत में 21 नागरिक हवाई अड्डे हैं। इस वर्ष की मई के अंत तक परिचालित उड़ान मार्गों की संख्या 264 है। विदेश के 20 से अधिक देशों और देश में 80 से अधिक शहरों से विमान से ऊरुमूछी अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे पर जा सकते हैं।

सूचना चैनल निर्माण के पहलू से देखा जाए, तो सिनच्यांड पाकिस्तान, कजाकिस्तान, ताजिकिस्तान और किर्गिज़स्तान जैसे पड़ोसी देशों के बीच

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी