कई देश ट्रम्प सरकार के साथ सहयोग करने की अपेक्षा में हैं

2017-01-22 16:16:42

डॉनल्ड ट्रम्प ने 20 जनवरी को अमेरिकी राजधानी वॉशिंगटन में राष्ट्रपति पद-ग्रहण की शपथ ली। वे औपचारिक रूप से 45वें अमेरिकी राष्ट्रपति बन गये। कई देशों के सरकारी नेताओं और अधिकारियों ने अमेरिका की नयी सरकार के साथ सहयोग संबंध का विकास करते हुए गर्म मुद्दों पर सहमति हासिल करने की अपेक्षा की।

मिस्र के राष्ट्रपति भवन ने बयान जारी कर कहा कि मिस्र के राष्ट्रपति अब्देल फ़तह अल सिसी राष्ट्रपति ट्रम्प के अगले चार साल के कार्यकाल में अमेरिका के साथ संबंधों में नयी प्रगति होने की प्रतीक्षा में हैं, ताकि दोनों देशों की जनता के समान हित हासिल हो सकें।

फिलीस्तीन के राष्ट्रपति भवन ने एक संक्षिप्त बयान में कहा कि राष्ट्रपति महमूद अब्बास ने ट्रम्प के नेतृत्व वाली अमेरिकी नयी सरकार के साथ सहयोग करने की आशा जतायी, ताकि क्षेत्रीय शांति, सुरक्षा और स्थिरता प्राप्त हो सके।

बेल्जियम के प्रधानमंत्री चार्ल्स मिशेल ने विज्ञप्ति में आशा जतायी कि ट्रम्प के कार्यकाल में बेल्जियम और अमेरिका आतंकवाद और उग्रवाद के विरोध में लगातार घनिष्ठ सहयोग करते रहेंगे।

फ्रांसीसी विदेश मंत्री ज्यां मार्क एरॉल्ट ने 19 जनवरी को कहा कि फ्रांस और अमेरिका के बीच समान हित और नैतिक मूल्य मौजूद हैं। फ्रांस अमेरिका की नयी सरकार के साथ जल्द से जल्द घनिष्ठ संबंध कायम करने की अपेक्षा करता है।

मेक्सिको के राष्ट्रपति एनरीक पेना नीतो ने कहा कि मेक्सिको की संप्रभु, राष्ट्रीय हित और मेक्सिको के लोगों की रक्षा मेक्सिको और अमेरिकी नयी सरकार के संबंधों के विकास का मार्गदर्शन करेंगे।   

उनके अलावा कोलंबिया के राष्ट्रपति जुआन मैनुअल सैंटोस, एस्टोनियाई राष्ट्रपति केर्स्टि कलजुलाइड, क्रोएशिया के प्रधानमंत्री आंद्रेज पलेनकोविच ने भी ट्रम्प के नेतृत्व वाली अमेरिकी नयी सरकार के साथ सहयोग करने की उम्मीद जतायी।

लेकिन और कुछ देशों के नेताओं ने ट्रम्प सरकार द्वारा लागू होने वाली कुछ नीतियों पर आशंका जतायी।

(मीनू)

कैलेंडर

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी