सीरियाई सरकार ने विपक्षियों पर उग्रवादी संगठन को शरण देने का आरोप लगाया

2017-01-24 11:01:29

सीरियाई सरकार के प्रतिनिधि मंडल के अध्यक्ष बशर जाफ़री ने 23 जनवरी को कजाखस्तान की राजधानी अस्ताना में भाषण देते हुए विपक्षियों पर उग्रवादी संगठन जबहट फतेह अल-शाम को शरण देने का आरोप लगाया और विपक्षियों के सशस्त्र बलों से युद्ध विराम समझौते का वास्तविक रूप से अनुपालन करने का आग्रह भी किया।

सीरिया सरकार और विपक्षियों के सशस्त्र बलों के बीच शांति वार्ता 23 जनवरी को आयोजित हुई। दोनों पक्षों ने युद्ध विराम समझौते का अनुपालन करने पर आगे विचार-विमर्श किया। बशर जाफ़री ने उसी दिन मीडिया से कहा कि जबहट फतेह अल-शाम संयुक्त राष्ट्र के आतंकी संगठनों की नामसूची में शामिल है। सीरिया की सरकारी सेना उसके खिलाफ़ सैन्य कार्यवाही कर रही है। लेकिन विपक्षियों के प्रतिनिधि मंडल का विचार है कि जबहट फतेह अल-शाम एक आतंकवादी संगठन नहीं है। इसके अलावा बशर जाफ़री ने विपक्षियों से युद्ध विराम समझौते का अनुपालन नहीं करने का आरोप भी लगाया।

(वनिता)

कैलेंडर

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी