श्रीलंका : युद्ध के बाद सुलह प्रक्रिया को आगे ले जाना निर्धारित

2017-02-05 14:43:55

श्रीलंका ने शनिवार को कहा कि युद्ध के बाद सुलह प्रक्रिया को आगे ले जाना निर्धारित है। उस दिन श्रीलंका ने ब्रिटिश शासन से मिली आजादी की 69वीं वर्षगांठ मनाई।

राष्ट्रपति मैत्रिपाला सिरिसेना ने कहा कि देश-विदेश में रह रहे लोगों ने सुलह प्रक्रिया को खूब सराहाया है। उन्होंने कहा कि जो सुलह प्रक्रिया के विरूद्ध काम कर रहे हैं, वो साफ तौर पर देश के खिलाफ काम कर रहे हैं।

राष्ट्रपति सिरिसेना ने कहा कि सरकार राष्ट्रीय सुलह और एकता को प्राथमिकता देने के लिए प्रतिबद्ध है। उन्होंने युद्ध के 30 साल बाद मई, 2009 में तमिल टाइगर विद्रोहियों को हराने के लिए सेना के प्रयासों का स्वागत भी किया।

राष्ट्रपति ने अंतरराष्ट्रीय समर्थन और सहायता जीतकर देश को आगे ले जाने के लिए समर्थन की मांग की।

इस बीच, श्रीलंका के प्रधानमंत्री रानिल विक्रमासिंघे ने अपने स्वतंत्रता दिवस के भाषण में कहा कि आजादी की इस भावना को और अधिक सार्थक बनाने के लिए, सरकार को लोगों के आर्थिक, सामाजिक और आध्यात्मिक कल्याण के संबंध में स्वतंत्रता की पुष्टि के लिए कदम उठाने चाहिए।

(अखिल पाराशर)

कैलेंडर

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी