चीन अमरिका वार्ता की 11वीं संगोष्ठी हांगकांग में आयोजित

2017-02-23 10:53:27

22 फ़रवरी को चीन-अमरिका वार्ता की 11वीं संगोष्ठी हांगकांग विशेष प्रशासनिक क्षेत्र में आयोजित हुई। हांगकांग स्थित अमेरिका, फ्रांस, ईरान, इज़राइल, भारत, जापान, दक्षिण कोरिया, उत्तर कोरिया, ऑस्ट्रेलिया और दक्षिण अफ्रीका समेत 26 देशों के कौंसुलेट अधिकारियों, यूरोपीय संघ के प्रतिनिधियों, हांगकांग की कार्यकारी परिषद के सदस्य, संबंधित विशेषज्ञों और विद्वानों ने इसमें भाग लिया। विभिन्न उपस्थितजनों ने नई स्थिति में चीन-अमेरिका संबंध और वैश्विक राजनीतिक स्वरूप के प्रमुख मुद्दों पर विचार-विमर्श किया।

अमेरिका के नए राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के कार्यकाल शुरू होने के एक महीने में उनके विशेष तरीके और नीति से वैश्विक राजनीतिक और आर्थिक स्वरूप पर प्रभाव पड़ा। नई स्थिति में लोग चीन-अमेरिका संबंध पर बड़ा ध्यान देते हैं। चीन के समकालीन अंतरराष्ट्रीय संबंध अनुसंधान केंद के उपाध्यक्ष य्वान फेंग का विचार है कि चीन और अमेरिका के बीच सबसे बड़ा जोखिम ठोस मामलों के बजाए संपर्क करने की व्यवस्था है। उनके सुझाव हैं कि दोनों देशों के नेता जल्द ही द्विपक्षीय मुलाकात करें और संचार व संपर्क करने का व्यवहारिक तरीका पुन:निर्मित करें।

वर्तमान संगोष्ठी में अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव के दौरान डोनाल्ड ट्रम्प के उच्च स्तरीय सलाहकार का काम किये अमेरिकी सीआईए के पूर्व अध्यक्ष आर. जेम्स वूलसी ने कहा कि चीन-अमेरिका संबंध का महत्व है विवाद के बजाए दोनों पक्ष एक साथ कुछ ठोस कदम उठाए। उनका विचार है कि "एक पट्टी एक मार्ग" के प्रस्ताव से दोनों देशों के बीच सहयोग का एक अच्छा मौका मिलेगा। उन्होंने कहा कि समान हित और सहयोग हमेशा से चीन-अमेरिका संबंध का प्रमुख विषय है।

(वनिता)


कैलेंडर

न्यूज़:
व्यापार पर्यटन फ़ैशन खेल एक्सपर्ट राय
व्यापार:
ख़बर व्यक्ति चीन का मार्किट चीन में निवेश
पर्यटन:
चीन की सैर पर्यटन जानकारी लोकप्रिय फोटो भारत दर्पण बलॉग चीनी भाषा सीखें
बाल-महिला स्पेशल
विश्व का आईना
चीनी भाषा सीखें:
वीडियो वीडियो
फोटो गैलरी:
चीन भारत दुनिया पर्यटन फ़ैशन शो