चीन के सम्मेलनों से दुनिया को मिलेगी दिशा

2017-03-10 15:21:43

चीन के सम्मेलनों से दुनिया को मिलेगी दिशा

चीन में साल के दो सबसे बड़े सम्मेलनों एनपीसी और सीपीपीसीसी पर चीन सहित दुनिया भर के लोग नज़र गड़ाए हुए हैं। राष्ट्रपति शी चिनफिंग के नेतृत्व में चीन सरकार और कम्युनिस्ट पार्टी विश्व को दिखा रहे हैं कि चीन क्या करने में सक्षम है। पिछले साल हांगचो में जी-20 के सफल आयोजन के बाद चीन के लिए यह विश्व का ध्यान आकर्षित करने का सबसे महत्वपूर्ण मंच है। यह कहने में कोई दोराय नहीं कि चीन इन दो सम्मेलनों के जरिए दुनिया को अपना महत्व और भूमिका को सही ढंग से बताने में सफल हुआ है।वैश्विक मंदी के दौर में दुनिया में आर्थिक स्थिरता कायम करने की दिशा में एनपीसी और सीपीपीसीसी के सम्मेलन बेहद अहम भूमिका निभा रहे हैं।मंदी के बावजूद चीन की वृद्धि दर 6.5 फ़ीसदी से अधिक रही है, जो कई विकसित देशों से बहुत अधिक है। ऐसे में आने वाले समय में चीन ग्लोबल स्तर पर और बड़ी रचनात्मक भूमिका निभाएगा। 


इसके साथ ही चीन के सर्वोच्च प्रतिनिधियों का ध्यान जलवायु परिवर्तन, गरीबी उन्मूलन, विश्व शांति और आतंकवाद से निपटने पर है। जाहिर सी बात है कि आज चीन विश्व की दूसरी सबसे बड़ी आर्थिक शक्ति है, ऐसे में वह अपनी वैश्विक ज़िम्मेदारी को पूरी तरह समझता है। जलवायु परिवर्तन और पर्यावरण प्रदूषण के मुकाबले में चीन अग्रणी योगदान दे रहा है। जलवायु परिवर्तन से निपटने के लिए प्रमुख तौर पर आगे आने वाले देशों में से चीन भी एक है। जबकि प्रदूषण की समस्या को सुलझाने के लिए स्वच्छ ऊर्जा और पुनरूत्पादनीय ऊर्जा के इस्तेमाल को बढ़ावा दिया जा रहा है। हाल के वर्षों में चीन में साइकिलों का चलन भी तेज़ी से बढ़ा है, जो पर्यावरण को साफ करने की दिशा में बड़ा कदम कहा जा सकता है। 

कैलेंडर

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी