चीन अपनी प्रभुसत्ता और सुरक्षा की रक्षा के लिए कदम उठाएगा :प्रवक्ता

2017-04-12 18:36:45

हाल ही में दलाई लामा ने चीन-भारत सीमा के पूर्वी भाग की यात्रा के दौरान अवतार व्यवस्था तथा दूसरे सवालों पर चीन सरकार के खिलाफ व्याख्यान दिया । इस दौरान किसी भारतीय अफसरों ने भी सीमा संबंधी सवालों पर अनुचित बात कही । इसके प्रति चीन के विदेश प्रवक्ता लू कांग ने 12 अप्रैल को पेइचिंग में कहा कि चीन ने भारतीय पहलु के प्रति गंभीरता से संपर्क साधा है और चीन अपनी प्रभुसत्ता और सुरक्षा की रक्षा के लिए कदम उठाएगा ।

लू कांग ने संवाददाता सम्मेलन में कहा कि दलाई लामा ने भारत के तथाकथित धार्मिक गतिविधि के दायरे को पार किया है और भारत द्वारा जो किया गया है इससे भी भारत सरकार द्वारा तिब्बत के सवाल पर दिये गये वायदे का उल्लंघन होता है । जिससे चीन-भारत द्वारा वार्ता के जरिये प्रादेशिक मतभेदों का समाधान करने पर भी बूरा प्रभाव पड़ेगा ।

लू कांग ने कहा कि सीमा और तिब्बत के सवाल चीन-भारत संबंधों के राजनीतिक आधार से संबंधित है । हम भारत से दोनों देशों और जनता के बुनियादी हितों की दृष्टि से सीमा वार्ता और द्विपक्षीय संबंधों को क्षतिग्रस्त कार्यवाही न करने की मांग करते हैं ।

( हूमिन )

कैलेंडर

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी