“एक पट्टी एक मार्ग” प्रस्ताव दक्षिण एशिया में आम विकास को बढ़ाएगा :अफ़ग़ानिस्तान

2017-05-12 15:26:48

“एक पट्टी एक मार्ग” प्रस्ताव क्षेत्रीय विकास की जरूरतों और अफ़ग़ानिस्तान-चीन के लाभ के अनुकूल है। यह प्रस्ताव अफ़ग़ानिस्तान, चीन और सारे दक्षिण एशियाई क्षेत्र के आम विकास को बढ़ाएगा। हाल ही में चीन के सिन्हुआ समाचार एजेंसी के संवाददाता के साक्षात्कार लेते समय अफ़ग़ानिस्तान की राजनीति, अर्थव्यवस्था और शिक्षा क्षेत्रों के प्रतिनिधियों ने यह बात कही।


चीन में स्थित पूर्व अफगान राजदूत सुल्तान अहमद बाहेंन ने कहा कि “एक पट्टी एक मार्ग” के निर्माण के कदम विविध हैं और इस का अंतिम लक्ष्य आम विकास को पूरा करना है। “एक पट्टी एक मार्ग” अफगानिस्तान और सारे क्षेत्र का विकास के अनुकूल है। इससे क्षेत्रीय मेलजोल और सहयोग को आगे बढ़ाया जाएगा। उन्होंने कहा कि “एक पट्टी एक मार्ग” प्रस्ताव अफगानिस्तान-चीन सहयोग की दृष्टि से प्रकट हुआ है। अफगान सरकार और लोग इस प्रस्ताव का काफी समर्थन करते हैं।


अफगानिस्तान के बदखशां प्रांत की संसद सदस्य फ़ौज़िया कोफ़ी ने कहा कि अफगानिस्तान के “एक पट्टी एक मार्ग” प्रस्ताव में सक्रिय रूप से भाग लेना बहुत ज़रूरी है। क्योंकि यह दोनों पक्षों के नेताओं की तत्काल इच्छा है।


“एक पट्टी एक मार्ग” से चीन और अफगानिस्तान के बीच सहयोग निरंतर मज़बूत हो रहा है। अफ़ग़ान सरकारी आंकड़ों के अनुसार वर्तमान में चीन अफ़ग़ानिस्तान का सबसे बड़ा निवेश का स्रोत और तीसरा सबसे बड़ा व्यापारिक भागीदार बना है।


अफगान वाणिज्य और उद्योग मंडल के उप प्रमुख यूनुस मोहमंद के मुताबिक अफगानिस्तान को आशा है कि “एक पट्टी एक मार्ग” में हिस्सा लेने से अफगानिस्तान पड़ोसी देशों के बीच संपर्क को बढ़ाकर और स्वयं आर्थिक विकास को आगे मज़बूत कर सकेगा।


(हैया)

कैलेंडर

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी