एशिया-प्रशांत सुरक्षा अवधारण ने अंतरराष्ट्रीय संबंधो में सुरक्षा गतिरोध तोड़ने के लिए नया विचार पेश किया

2017-06-04 17:50:07

16वां शांग्रीला वार्तालाप 2 से 4 जून तक सिंगापुर में आयोजित हुआ। चीनी प्रतिनिधि मंडल के नेता और चीनी जन मुक्ति सेना के सैन्य  अकादमी के उपाध्यक्ष ह लेन ने संवाददाताओं को बताया कि चीनी पक्ष ने वार्तालाप में मुख्य तौर पर चीनी शांतिपूर्ण कूटनीति और रक्षात्मक प्रतिरक्षा नीति का व्याख्यान किया। उन्होंने बल देकर कहा कि चीन एशिया सुरक्षा अवधारण का अभ्यास करेगा, मानव भाग्य का समान समुदाय बनाएगा, एक साथ बनाने, साझा करने और समान जीत पाने के सुरक्षित रास्ते पर चलेगा, जिसने अंतरराष्ट्रीय संबंधों में मौजूद सुरक्षा गतिरोध तोड़कर चिरस्थाई विश्व शांति के लिए नया विचार पेश किया है।


ह ले ने बताया कि चीन ने एशिया सुरक्षा अवधारणा प्रस्तुत की और इसका अभ्यास भी कर रहा है। चीन हमेशा अंतरराष्ट्रीय और क्षेत्रीय सुरक्षा की सुरक्षाकर्ता, निर्माणकर्ता और योगदानकर्ता बना रहेगा। दक्षिणी चीन सागर मुद्दे पर चीन ने दो पटरियों वाला सुझाव पेश किया यानी इस मुद्दे से प्रत्यक्ष रूप से जुड़े पक्षों को वार्ता से मतभेदों का समाधान करना चाहिए। चीन और आशियान देशों को एक साथ दक्षिणी चीन सागर की शांति और स्थिरता बनाए रखनी चाहिए। कोरियाई प्रायद्वीप मुद्दे पर चीन ने उत्तर कोरिया से अंतरिम रूप से परमाणु गतिविधि बंद करने और अमेरिका और दक्षिण कोरिया से अंतरिम रूप से बडे सैन्याभ्यास बंद करने का सुझाव पेश किया। एशिया-प्रशांत शांतिपूर्ण विकास के लिए चीन ने एक पट्टी एक मार्ग योजना प्रस्तुत की।


ह ले ने कहा कि चीनी सेना अपनी शक्ति के मुताबिक अधिकतर अंतरराष्ट्रीय जिम्मेदारी और कर्तव्य उठाएगी।

(वेइतुङ)    

कैलेंडर

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी