साऊदी अरब समेत पांच देशों के राजनयिक संबंध तोड़ने का कोई कारण नहीं :कतर

2017-06-05 16:55:17

कतर के विदेश मंत्रालय ने 5 जून को बयान जारी कर साऊदी अरब, यूएई और बहरीन द्वारा कतर के साथ राजनयिक संबंध तोड़ने पर खेद जताया और हैरानी व्यक्त की। बयान में मिस्र और यमन के नाम का प्रत्यक्ष तौर पर उल्लेख नहीं किया गया।

बयान में कहा गया कि साऊदी अरब, यूएई और बहरीन के कतर के साथ राजनयिक संबंध खत्म करने और सीमा, हवाई और समुद्री आवाजाही बंद करने का कोई कारण नहीं है। कतर कभी भी दूसरे देश के अंदुरूनी मामले में हस्तक्षेप नहीं करता और आतंकवाद और उग्रवादी कार्रवाई का विरोध करने वाले कर्तव्यों का पालन करता है।

इधर कुछ साल मध्य-पूर्व में कतर मुस्लिम ब्रदरहुड और इस्लामिक प्रतिरोधी आंदोलन हमास जैसे कुछ संगठनों का समर्थन करता है, जिससे कई अरब देशों को बड़ा असंतोष हुआ है। साऊदी अरब और मिस्र समेत कुछ देशों और कतर के संबंधों में तनाव आ गया है। कुछ विश्लेषकों के विचार में कतर ईरान के साथ करीबी रिश्ते बना रहा है, जो मध्य-पूर्व के कई देशों दवारा उसके साथ संबंध खत्म करने का प्रत्यक्ष कारण है।

(वेइतुङ) 

कैलेंडर

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी