अमेरिका और भारत : व्यापार बढ़ाने, आतंक-रोधी सहयोग पर जोर

2017-06-27 11:07:33

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने सोमवार को भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से भेंटवार्ता की, और मजबूत द्विपक्षीय संबंधों को प्रोत्साहित किया तथा व्यापार व आतंक-रोधी जैसे क्षेत्रों में सहयोग बढ़ाने का वचन दिया।

ट्रम्प ने व्हाइट हाउस रोज गार्डन में मोदी के साथ मुलाकात में कहा, “आज की मुलाक़ात के बाद मैं ये कहना चाहूंगा कि भारत और अमरीका के संबंध इतने मज़ूबत और इतने बेहतर इससे पहले कभी नहीं थे।”

उन्होंने आगे कहा, “भारत और अमेरिका हमेशा दोस्ती और सम्मान में एक साथ बंधे रहेंगे।”

मोदी ने ट्रम्प के साथ हुई बातचीत को “अत्यंत महत्वपूर्ण” बताई। भारत और अमेरिका के संबंध परस्पर विश्वास और साझा मूल्यों पर आधारित है।

मोदी ने कहा, “मेरी यात्रा और हमारी वार्ता आज हमारे दोनों देशों के बीच सहभागिता और सहयोग के इतिहास में एक बहुत ही महत्वपूर्ण पृष्ठ को चिह्नित करेंगे।”

ट्रम्प ने कहा कि "उचित और पारस्परिक व्यापारिक संबंध बनाने को लेकर" वह मोदी के साथ काम करने के लिए तत्पर हैं लेकिन उन्होंने भारत के साथ अमेरिका के व्यापार घाटे को कम करने के लिए भारतीय प्रधानमंत्री से अपील की।

ट्रम्प ने कहा, “यह महत्वपूर्ण है कि आपके बाजारों में अमेरिका के सामान के निर्यात में बाधाओं को हटा दिया जाए, और हम आपके देश के साथ व्यापार घाटे को कम करें।”

सुरक्षा साझेदारी पर, दोनों अमेरिकी और भारतीय नेताओं ने आतंकवाद से मुकाबला करने के महत्व पर बल दिया।

ट्रम्प ने कहा कि भारत और अमरीका दोनों ही देश चरमपंथियों और चरमपंथी विचारधारा से लड़ते रहे हैं। हम आतंकवादी संगठनों और कट्टरपंथी विचारधारा को नष्ट करने के लिए निर्धारित हैं।

मोदी ने कहा, “राष्ट्रपति ट्रम्प और मेरे दोनों के लिए सर्वोच्च प्राथमिकता आतंकवाद जैसी वैश्विक चुनौतियों से हमारे समाज की रक्षा करना है।”

(अखिल पाराशर)

कैलेंडर

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी