थाईवान को अमेरिका द्वारा हथियार बेचने पर चीन का दृढ़ विरोध

2017-06-30 18:32:33

थाईवान को अरेरिका द्वारा हथियारों की बिक्री पर चीन दृढ़ता के साथ विरोध करता है और इस बात से बहुत नाराज़ है। चीन ने अमेरिका से थाईवान को हथियार बेचने की परियोजना रद्द करने, थाईवान को हथियार बेचने की कार्यवाही और थाईवान के साथ सैन्य संपूर्क बन्द करने का आग्रह किया। चीनी रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता ने 30 जून को यह बात कही।

29 जून को अमेरिकी सरकार ने अमरीकी कांग्रेस को सूचना दी और थाईवान को 1 अरब 40 करोड़ अमेरिकी डॉलर के हथियार बेचने का फैसला किया। चीनी रक्षा मंत्रालय का विचार है कि थाईवान मामला चीन की प्रभुसत्ता, प्रादेशिक अखंडता और चीन के केंद्रीय हितों से संबंधित है। यह चीन अमेरिका संबंधों में सबसे महत्वपूर्ण और सबसे संवेदनशील केंद्रीय मुद्दा है। चीन थाईवान को किसी भी देश की हथियार बिक्री का दृढ़ विरोध करता है। अमेरिका की हरकत चीन और अमेरिका की तीन संयुक्त विज्ञप्तियों विशेषकर अगस्त 17 विज्ञप्ति के सिद्धांत का उल्लंघन करता है, चीन के आंतरिक मामलों में खुला हस्तक्षेप करता है, चीन की प्रभुसत्ता और सुरक्षा हितों, थाईवान जलडमरू मध्य के दोनों तटों के बीच संबंध की शांति और विकास, थाईनान की शांति और स्थिरता को नुकसान पहुंचता है।

चीनी रक्षा मंत्रालय ने ज़ोर देते हुए कहा कि देश की प्रभुसत्ता, प्रादेशिक अखंडता की रक्षा के मामले पर चीनी सेना का रुख दृढ़ और स्पष्ट है। चीन ने अमेरिका से चीन और अमेरिका के बीच तीन संयुक्त विज्ञप्तियों के सिद्धांत का पालन करके थाईवान को हथियार बेचने की परियोजना रद्द करने, थाईवान को हथियार बेचने की परियोजना और थाईवान के साथ सैन्य संपर्क बन्द करने का आग्रह किया, ताकि चीन और अमेरिका के बीच संबंध और थाईवान जलडमरू मध्य की शांति और स्थिरता को आगे नुकसान पहुंचने से बचाया जा सके।

(वनिता)

कैलेंडर

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी