“एक पट्टी एक मार्ग”ने विकासशील देशों के लिए विकास का द्वार खोला : नेपाली उप राष्ट्रपति

2017-07-07 17:19:29

“एक पट्टी एक मार्ग”ने विकासशील देशों के लिए विकास का द्वार खोला : नेपाली उप राष्ट्रपति

23वां लानचो निवेश और व्यापार मेला 6 जुलाई को पश्चिमोत्तर चीन के कान्सू प्रांत की राजधानी लानचो में उद्घाटित हुआ। नेपाल और मलेशिया मौजूदा मेले के अतिथि देश हैं। मेले में भाग ले रहे नेपाली उप राष्ट्रपति नंदा बहादुर पुन ने चाइना रेडियो इन्टरनेशनल यानी सीआरआई को दिए एक इन्टरव्यू में चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग द्वारा प्रस्तुत“एक पट्टी एक मार्ग”वाले प्रस्ताव का उच्च मूल्यांकन किया और कहा कि“एक पट्टी एक मार्ग”से इसके तटीय देशों को जोड़ता है, जिसने विकासशील देशों के लिए विकास का द्वार खोला है।

पुन ने विश्वास जताया कि“एक पट्टी एक मार्ग”में भाग लेने के बाद नेपाल और चीन के आर्थिक विकास में अधिक उपलब्धियां प्राप्त होंगी। उन्होंने कहा कि“एक पट्टी एक मार्ग”के निर्माण से नेपाल के सामाजिक विकास के लिए भी ज्यादा मौका प्राप्त होंगे। नेपाल के व्यापार, विनिर्माण और निवेश आदि क्षेत्रों के लिए नया द्वार खुलेगा। इसके अलावा, दूसरे देशों के साथ जोड़ने वाले मार्ग और रेल नेटवर्क के निर्माण और विकास के क्षेत्र में “एक पट्टी एक मार्ग”महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा।

जानकारी के अनुसार 4 दिवसीय लानचो व्यापार मेला की थीम“'एक पट्टी एक मार्ग' का समान निर्माण और आपसी लाभ व समान जीत का संवर्द्धन”है। इस मेले में 36 देशों, चीन के 24 प्रांतों, हांककांग और मकाओ विशेष प्रशासनिक क्षेत्रों तथा थाईवान क्षेत्र के 4 हज़ार कारोबार मेले में सहयोग पर विचार विमर्श करेंगे, ताकि“एक पट्टी एक मार्ग”के तटीय देशों और क्षेत्रों की समान समृद्धि को आगे बढ़ाया जा सके।

(श्याओ थांग)

कैलेंडर

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी