चीनी तिब्बती सांस्कृतिक आदान-प्रदान मंडल की कैनबरा शुरू

2017-08-31 15:19:00

चीनी राज्य परिषद के सूचना कार्यालय के तहत मानवाधिकार मामलात ब्यूरो की उच्च स्तरीय पदाधिकारी मैडम वांग यैन वेन के नेतृत्व में चीनी तिब्बती सांस्कृतिक आदान-प्रदान मंडल ने सिडनी की यात्रा समाप्त कर 30 अगस्त को ऑस्ट्रेलिया की राजधानी कैनबरा की यात्रा शुरू की ।

चीनी मंडल ने कैनबरा में ऑस्ट्रेलिया के सरकारी अफसरों, थिंक टैंक विद्वानों और प्रेस के साथ व्यापक संपर्क किया और मेजबानों को तिब्बत के इतिहास, संस्कृति, धर्म और विकास का परिचय दिया। भेंट के दौरान ऑस्ट्रेलिया के अफसरों ने कहा कि चीन का विकास ऑस्ट्रेलिया के लिए महत्वपूर्ण है और वे चीन के तिब्बत स्वायत्त प्रदेश के साथ कृषि, विज्ञान,प्रौद्योगिकी, पर्यटन और अन्य क्षेत्रों में व्यापक आदान-प्रदान व सहयोग करने को तैयार हैं । ऑस्ट्रेलिया के विद्वानों व प्रेस के साथ संपर्क रखते समय चीनी अतिथियों ने अपने मेजबानों को तिब्बत स्वायत्त प्रदेश की स्थापना से लेकर अब तक के पचास से अधिक सालों में प्राप्त प्रगतियों का परिचय दिया । मंडल ने तिब्बत में आर्थिक व सामाजिक विकास, सांस्कृतिक विरासत संरक्षण, तिब्बती भाषा के उपयोग और तिब्बती बौद्ध धर्म का पुनर्जन्म प्रणाली आदि की जानकारियां दीं । प्रेस के साथ हुए प्रश्नोत्तर में मैडम वांग ने कहा कि तिब्बत प्राचीन काल से ही चीन का प्रादेशिक भाग बना रहा है । चीन सरकार, किसी भी व्यक्ति से धर्म और मानवाधिकार के बहाने से चीन के अन्दरूनी मामलों में हस्तक्षेप करने का डटकर विरोध करती है, और कुछ बलों की दलाई लामा के साथ जुड़कर चीन को विभाजित करने की कार्यवाइयों का कड़ा विरोध करती है । मंडल की यात्रा का उद्देश्य, ऑस्ट्रेलियाई जनता को तिब्बत स्वायत्त प्रदेश में शांत व सुखमय जन जीवन की सच्चाई बताना है । आशा है कि दोनों देश एक दूसरे का समादर करेंगे और तिब्बत के प्रति गैर-जिम्मेदाराना टिप्पणी करना उचित नहीं है ।

ऑस्ट्रेलिया के विद्वानों व मीडिया व्यक्तियों ने कहा कि मंडल के साथ आदान-प्रदान करने से उन्हें तिब्बत के प्रति बहुत-सी जानकारियां प्राप्त हुई हैं । आशा है चीन और अधिक ऐसे आदान-प्रदान मंडल भेजेगा ताकि लोगों को तिब्बत की सच्चाइयों की जानकारी मिल सके ।

( हूमिन )

कैलेंडर

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी