व्यवहारिक सहयोग से ब्रिक्स देशों की आर्थिक निहित शक्ति पैदा करें

2017-09-05 12:15:00

ब्रिक्स देशों के नेताओं की नौवीं भेंट वार्ता 4 सितंबर को चीन के श्यामन शहर में आयोजित हुई। चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने उद्घाटन समारोह में भाषण दिया। साथ ही वार्ता में प्राप्त श्यानमन घोषणा पत्र पर भी विश्व का ध्यान केंद्रित हुआ है। विशेषज्ञों के मुताबिक राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने आगामी दस वर्षों में ब्रिक्स सहयोग के लिये ठोस सुझाव दिये हैं। यानी व्यवहारिक सहयोग से ब्रिक्स देशों की आर्थिक निहित शक्ति पैदा करना और सक्रिय रूप से विश्व शासन में भाग लेना है।

चीनी अंतर्राष्ट्रीय मामला अनुसंधान प्रतिष्ठान के उप प्रमुख क्वो श्येनकांग के ख्याल से आर्थिक व्यवहारिक सहयोग ब्रिक्स देशों द्वारा बीते दस वर्षों में प्राप्त तेज विकास का महत्वपूर्ण कारण है। इसलिये व्यवहारिक सहयोग जैसे मूल्यवान अनुभव अगले दस वर्षों में भी लगातार लागू किये जाने चाहिये।

साथ ही व्यवहारिक सहयोग श्यामन घोषणा पत्र का एक महत्वपूर्ण विषय भी है। चीनी जन विश्वविद्यालय के छूंगयांग वित्त अनुसंधान प्रतिष्ठान के कार्यकारी महानिदेशक वांग वन ने कहा कि घोषणा पत्र में यह कहा गया है कि व्यापार व पूंजी-निवेश के सहयोग ब्रिक्स देशों की आर्थिक निहित शक्ति पैदा करने के लिये लाभदायक है। यह ब्रिक्स देशों के आगे बढ़ाने का कारण भी है।

चंद्रिमा

कैलेंडर

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी