भारतीय अर्थव्यवस्था की धीमी रफ्तार, रोजगार मुद्दा गर्माया

2017-09-11 19:20:00

भारतीय साख्यिकी ब्यूरो द्वारा हाल ही में जारी आंकड़ों के अनुसार 2017-18 वित्तीय वर्ष की पहले तिमाही (अप्रैल से जून तक ) में भारत की आर्थिक वृद्धि दर 5.7 प्रतिशत रही, जो पिछले तिमाही की 6.1 प्रतिशत से कम था। बाजार के जानकारों के विचार में आर्थिक विकास धीमा होने और विनिर्माण सेक्टर में लंबे समय तक मंदी रहने से भारत का रोजगार मुद्दा गर्मा रहा है ।

आंकड़ों के अनुसार इस वित्तीय वर्ष की पहले तिमाही में विनिर्माण उद्योग की अतिरिक्त मूल्य में सिर्फ 1.2 प्रतिशत बढ़ोतरी दर्ज हुई, जबकि गतवर्ष की समान अवधि से वृद्धि दर 10.7 प्रतिशत थी।

भारतीय केंद्रीय बैंक के पूर्व महानिदेशक रघुराम राजन ने पहले बताया था कि भारत में हर महीने श्रमिक बाजार में उतरने वालों की तादाद बहुत ज्यादा होती है । अगर उनको रोजगार के कम मौके मिले, तो सामाजिक खतरा पैदा हो जाएगा। (वेइतुङ)

कैलेंडर

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी