कई देशों ने उत्तर कोरिया से संयुक्त राष्ट्र के प्रस्तावों का पालन करने की अपील की

2017-09-16 17:17:00

उत्तर कोरिया ने 15 सितंबर की सुबह को मध्यम दूरी की बैलिस्टिक मिसाइल का परीक्षण किया। यह मिसाइल पूर्वी जापान के प्रशांत महासागर में गिरी। कई देशों ने इसकी निंदा की और उत्तर कोरिया के इस व्यवहार पर विरोध जताया। साथ ही उत्तर कोरिया को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के प्रासंगिक प्रस्ताव का पालन करने की अपील की और राजनीतिक तरीके से समस्या का हल करने पर ज़ोर दिया।

दक्षिण कोरिया सरकार ने उस दिन वक्तव्य जारी कर इस मामले पर उत्तर कोरिया की कड़ी निंदा की। साथ ही दक्षिण कोरियाई सेना ने उत्तर कोरिया के मिसाइल परीक्षण के 6 मिनट के बाद मिसाइल ड्रिल किया। दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति ने कहा कि इस स्थिति में उत्तर कोरिया के साथ वार्ता करना असंभव है।

रूसी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता नेकहा कि उत्तर कोरिया का यह व्यवहार संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के नए प्रस्ताव का उल्लंघन है। हाल ही में कोरिया प्रायद्वीप पर स्थिति को सुधारना जरुरी है।

अमेरिकी विदेश मंत्रालय ने उस दिन वक्तव्य जारी कर कहा कि यह उत्तर कोरिया द्वारा वर्तमान में अमेरिका के सहयोगी देश जापान पर किया गया दूसरा प्रत्यक्ष उकसावा व्यवहार है। यह उत्तर कोरिया के कूटनीति और अर्थव्यवस्था के लिए नुकसानदेह है।

चीनी विदेश मंत्रालय का प्रवक्ता ने कहा कि चीन उत्तर कोरिया के इस व्यवहार का विरोध करता है। वर्तमान में कोरिया प्रायद्वीप की स्थिति जटिल, संवेदनशील और गम्भीर है। संबंधित पक्षों को संयम रखना चाहिए।

(मीरा)

कैलेंडर

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी