चीन-भारत संबंध : तर्क के साथ चीन के विकास को देखना चाहिये

2017-09-25 16:43:00

ब्रिक्स देशों के शिखर सम्मेलन में चीनी राष्ट्रपति ने भारतीय प्रधानमंत्री से भेंट के दौरान कहा कि भारत को तर्कपूर्ण नज़रिये से चीन के विकास को देखना चाहिये। लेकिन दोनों के बीच क्यों ऐसी बात हुई है आइये सुनिये चाइना रेडियो इंटरनेशनल के टिप्पणीकार का विश्लेषण।

सपना – यह चाइना रेडियो इंटरनेशनल है। सभी श्रोताओं को सपना की नमस्ते।

हू – और सभी श्रोता दोस्तों को हूमिन का भी नमस्कार ।

सपना – हू साहब, चीनी राष्ट्रपति शी चिनफींग ने ब्रिक्स देशों के शिखर सम्मेलन में भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ बातचीत के दौरान यह आशा जतायी कि भारत सही तौर पर और तर्क के साथ चीन का विकास देखेगा। यह असामान्य है कि किसी चीनी नेता ने अपने पड़ोसी देश के नेता से ऐसी बात कही है। आप बताईये कि चीनी राष्ट्रपति ने क्यों यह कही और इन सबके पीछे क्या कारण है ?

हू – जी। अच्छा, जवाब देने से पहले मैं आपको एक कहानी सुनाऊं ?

सपना – सुनाइये।

हू – जब मैं इंडिया में रहता था तब मैंने अपने स्थानीय दोस्तों के साथ चीन-भारत संबंधों के विषयों पर बार बार चर्चा की। मैं हमेशा से यह बात सुनाता रहा कि चीन और भारत दो भाई हैं। लेकिन एक दिन किसी दोस्त ने मेरी बात सुनकर यह पूछा, हां, इंडिया और चाइना दो भाई हैं, लेकिन उन दोनों में बड़ा भाई कौन है ?

सपना – हां जी, हम हमेशा से यह सुनते हैं और सुनाते भी हैं कि चीन और भारत के बीच भाईयों जैसे संबंध हैं, पर फिर भी दोनों भाइयों के बीच में एक बड़ा हो सकता है, और एक छोटा भी। यह एक अच्छा सवाल है, तो फिर आप ने क्या जवाब दिया ?

हू – जी, जी । उस समय मुझे भी इसका जवाब देने में परेशानी हुई। क्योंकि मैंने चाइना रेडियो इंटरनेशनल के हिन्दी सर्विस में तीस वर्षों से अधिक समय से चीन-भारत मित्रता का प्रसारण किया है, पर मैंने कभी नहीं सोचा कि इन दोनों देशों के बीच में नम्बर एक और नम्बर दो निर्धारित करना चाहिये। इंडिया और चाइना, दोनों विश्व में सबसे बड़ी जनसंख्या वाले देश हैं, दोनों की संस्कृति और सभ्यता पाँच हज़ार साल पुरानी है और दोनों ही राष्ट्रीय पुनरुद्धार की महान योजना साकार करने में जुटे हुए हैं। उन दोनों में कौन पहला है और कौन दूसरा है, क्या इसे सचमुच साफ़ करने की ज़रूरत है ?

कैलेंडर

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी