ल्यू येनतुङ ने चीन-अमेरिका सांस्कृतिक मंच पर भाषण दिया

2017-09-27 16:39:01

स्थानीय समयानुसार 26 सितंबर को चीनी उप प्रधानमंत्री ल्यू येनतुङ ने न्यूयॉर्क मेट्रोपॉलिटन कला संग्रहालय में आयोजित चीन-अमेरिका सांस्कृतिक मंच में भाग लिया, और भाषण दिया।

ल्यू येनतुङ ने कहा कि चीन और अमेरिका विश्व में सबसे बड़े विकासशील देश और सबसे बड़े विकसित देश के रूप में दोनों देशों के संबंधों का स्वस्थ और स्थिर विकास न सिर्फ़ दोनों देशों की जनता के बुनियादी हितों से मेल खाता है, बल्कि विश्व शांति, स्थिरता और समृद्धि को मज़बूत करने के लिये लाभदायक भी है। नयी स्थिति में दोनों पक्षों को मानवीय और सांस्कृतिक आदान-प्रदान की विशेष भूमिका अच्छी तरह से निभाकर चीन-अमेरिका संबंधों का और ज्यादा विकास करना चाहिये।

ल्यू येनतुङ ने कहा कि सांस्कृतिक क्षेत्र हमेशा चीन-अमेरिका के बीच मानवीय आदान-प्रदान का एक महत्व है। वर्तमान में अर्थव्यवस्था को साझा करने पर व्यापक ध्यान केंद्रित हुआ है। संस्कृति का मूल्य तो साझा करना है। जिससे विभिन्न क्षेत्रों या देशों में रहने वाले व्यक्ति अपनी अच्छी संस्कृति को अन्य लोगों के साथ साझा कर सकेंगे। चीन सांस्कृतिक निर्माण पर बड़ा ध्यान देता है। उधर अमेरिका में सांस्कृतिक व्यवसाय बहुत विकसित है। इसलिये दोनों देशों के बीच सांस्कृतिक आदान-प्रदान करने और सांस्कृतिक व्यवसायों के सहयोग करने का अच्छा आधार और बड़ी निहित शक्ति है।

चंद्रिमा

कैलेंडर

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी