चीनी प्रतिनिधि ने नागरिक उड्डयन सुरक्षा और आतंक विरोधी मुद्दे पर रूख पर प्रकाश डाला

2017-09-28 16:20:00

संयुक्त राष्ट्र स्थित चीनी उप स्थाई प्रतिनिधि वू हाईथाओ ने 27 सितंबर को सुरक्षा परिषद के नागरिक उड्डयन सुरक्षा और आतंक विरोधी मुद्दे से जुड़े खुले सम्मेलन में भाषण दिया और चीन के रूख पर प्रकाश डाला।

वू हाईथाओ ने कहा कि नागरिक उड्डयन विश्व के विभिन्न देशों के बीच आपसी संपर्क को मज़बूत करने, राजनीतिक सांस्कृतिक आदान-प्रदान और आर्थिक व्यापार सहयोग को बढ़ावा देने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है। लेकिन हाल के वर्षों में आतंकी संगठन ने नागरिक उड्डयन को आतंकी हमले का शिकार बनाया, जिससे लोगों की जान-माल की सुरक्षा को क्षति पहुंचाई गई और संबंधित देशों की स्थिरता और सामाजिक आर्थिक विकास पर कुप्रभाव पड़ा। अंतरराष्ट्रीय समुदाय को मानव जाति के समान भाग्य वाले समुदाय स्थापित करते हुए नागरिक उड्डयन क्षेत्र में सहयोग करना चाहिए, विश्व में नागरिक उड्डयन व्यवस्था के आतंकी हमले से बचाने के लिए कारगर और ठोस कदम उठाना चाहिए।

वू हाईथाओ ने कहा कि नागरिक उड्डयन के खिलाफ़ आतंकी हमले की रोकथाम के लिए एकीकृत मापदंड अपनाया जाना जरूरी है। विभिन्न देशों को आतंकवाद पर शून्य सहनशीलता अपनाते हुए दृढ़ता के साथ हमला करना चाहिए। अंतरराष्ट्रीय आतंक विरोधी कार्रवाई में संयुक्त राष्ट्र और सुरक्षा परिषद की प्रधानता दी जानी चाहिए। संयुक्त राष्ट्र चार्टर के उद्देश्य और सिद्धांत का पालन करते हुए आपस में कारगर समन्वय मज़बूत करना चाहिए, ताकि विश्व में संयुक्त आतंक विरोधी मोर्चा स्थापित हो सके और आंतकवादियों पर कड़े हमले का दबाव बनाया जा सके।

वू हाईथाओ ने यह भी कहा कि आतंक-रोधी शिविर में महत्वपूर्ण सदस्य के रूप में चीन नागरिक उड्डयन क्षेत्र में आतंक-रोधी सहयोग को लगातार आगे बढ़ाएगा। देश में नागरिक उड्डयन सुरक्षा के स्तर को उन्नत करेगा। चीन अंतरराष्ट्रीय नागरिक उड्डयन संगंठन के साथ मिलकर इसी क्षेत्र में सुरक्षा की मज़बूती के लिए सहयोग करना चाहता है।

(श्याओ थांग)

कैलेंडर

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी