चीन न तो प्रभुत्ववाद और न ही विस्तारवाद का समर्थक

2017-10-18 14:39:00

चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने सीपीसी की 19वीं राष्ट्रीय कांग्रेस में रिपोर्ट देते हुए कहा कि नए युग में प्रवेश होकर चीन स्वतंत्र और शांतिपूर्ण विदेश नीति अपनाता है। विभिन्न देशों की जनता को अपना विकास का रास्ता चुनने की छूट है। चीन अंतरराष्ट्रीय निष्पक्ष और न्याय की रक्षा करता है। खुद के इरादे को जबरन दूसरे पर थोपने का विरोध करता है। इसके साथ ही दूसरे देशों के अंदरूनी मामले में हस्तक्षेप करने और बल प्रयोग कर कमजोरों को सताने और अपमानित करने का विरोध भी करता है।

शी चिनफिंग ने कहा कि चीन दूसरे देशों के हितों को नुकसान पहुंचाने से खुद का विकास नहीं करना चाहता, और न ही खुद के न्यायिक अधिकारों और हितों को छोड़ता है। कोई भी व्यक्ति ऐसा न सोचे कि चीन अपने हितों को नुकसान पहुंचाने वाले कड़वे फल खाएगा। चीन प्रतिरक्षात्मक राष्ट्रीय रक्षा नीति अपनाता है। चीन का विकास किसी भी देश के लिए खतरा नहीं है। चाहे चीन का विकास किसी भी हद तक हो, चीन हमेशा न तो प्रभुत्ववाद और न ही विस्तारवाद का समर्थक है।

(श्याओ थांग)

कैलेंडर

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी